उत्तर प्रदेश सरकार ने किया पांचवा और आखरी बजट पेश

0

लखनऊ- 22 फरवरी 2021, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  स्वतंत्र देव सिंह ने योगी सरकार को आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश के स्वप्न को साकार करने वाले जन आंकाक्षाओं के बजट को प्रस्तुत करने के लिए बधाई दी है।

उन्होंने कहा कि कोविड जैसी महामारी से प्रभावित अर्थव्यवस्था और आय की कठिनाई के बाद भी बजट में किसी वर्ग का भी हित प्रभावित नहीं होने दिया गया और वित्तीय अनुशासन बनाए रखते हुए समाज के सभी वर्गों की उन्नति का मार्ग प्रशस्त किया गया है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश का बजट प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत की संकल्पना से आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश के संकल्पों का योजनाबद्ध दस्तावेज है। इस बजट में गांव, गरीब, किसान, महिला, युवा, बुजुर्ग, व्यापारी सभी का हित समाहित है।

प्रदेश की भाजपा सरकार के बजट में बुनियादी संरचनाओं का विकास, एक्सप्रेस-वे-एयरपोर्ट निर्माण, चिकित्सा, शिक्षा, सिंचाई, ग्राम विकास, महिला कल्याण, पंचायती राज, ऊर्जा, कृषि, औद्योगिक विकास, पर्यटन, क्षेत्रीय विकास तथा अवस्थापना सहित सभी क्षेत्रों के विकास के साथ सुदृढ़ उत्तर प्रदेश का आधार निहित है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश का बजट पण्डित दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय पथ का अनुगामी सबका साथ-सबका विकास के साथ सबके विश्वास का बजट है। भारत ऋषि व कृषि परम्परा का देश है, इसकों ध्यान में रखते हुए संस्कृत विद्यालयों में गुरूकुल की परंपरा से लेकर गांव को डिजिटल बनाने की राह है,जो बजट ने खोली है।

वहीं अयोध्या, मथुरा, काशी, चित्रकूट, विध्यांचल एवं नैमिषारण्य जैसे आस्था के केन्द्रों के समग्र विकास का खाका खींचकर जनआकांक्षाओं को बजट में मूर्त रूप दिया गया है।

प्रदेश अध्यक्ष श्री स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि बजट सर्वसमावेशी भी है और सर्वस्पर्शी भी है। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व में राज्य नित नए आयाम गढ़ रहा है। यह बजट प्रदेश की इकोनाॅमी को एक ट्रिलियन डालर बनाने के दिशा में निर्णायक कदम साबित होगा।

उनके नेतृत्व में अब तक जो भी बजट पेश किया गया उन सभी ने प्रदेश को दिशा देने में सकारात्मक भूमिका निभाई है।  सिंह ने कहा कि अन्नदाताओं की आय को दोगुना करने के लिए आत्मनिर्भर समन्वित विकास योजना, सामाजिक सुरक्षा के लिए 600 करोड़ की कल्याण योजना और मुफ्त सिंचाई के लिए 700 करोड़ रूपये की व्यवस्था अन्नदाताओं के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता दर्शाती है।

राज्य की अर्थव्यवस्था की गति के लिए बुनियादी ढांचे के विकास तथा कनेक्टिविटी पर विशेष ध्यान दिया गया है। उन्होंने कहा कि हर घर तथा खेत तक पानी, बिजली के साथ युवा और महिलाओं के उत्थान पर प्रदेश की प्रगति टिकी हुई है।

बजट में इसका ध्यान रखते हुए महिलाओं के सशक्त व स्वाबलम्बी बनाने के लिए सक्षम, सुपोषण योजना निराश्रित महिला पेंशन, महिला सामथ्र्य योजना जैसी अभिनव पहल की गई है। वहीं युवाओं के कौशल विकास कैरियर योजना व सम्पूर्ण विकास के लिए भी बजट में योजनाएं घोषित की गई है।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष  स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि कोरोना काल में उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य प्रबंधन ने पूरे विश्व को राह दिखाई है। नए मेडिकल कालेजों में अत्याधुनिक लैबों व उन्नत स्वास्थ्य सुविधाओं का विकास बिमारियों के खिलाफ इस मुहिम को और तेज करेगा। उन्होने कहा कि यह बजट भाजपा की समग्र सोच समन्वित विकास व अन्त्योदय के संकल्प पर आधारित है। जो तुष्टिकरण, भेदभाव व परिवारवाद की कुप्रथाओं को पूर्णता समाप्त करने की दिशा में प्रभावी सिद्ध होगा।

सिह ने कहा कि ईज आॅफ लिविंग और आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश के संकल्प के साथ प्रस्तुत बजट योगी सरकार के संकल्प से सिद्धी की यात्रा है।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/convbkxu/bundelkhandkhabar.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352

LEAVE A REPLY