शिव मन्दिर पर धूमधाम से मना श्रीकृष्ण जन्मोत्सव

शिव मन्दिर पर धूमधाम से मना श्रीकृष्ण जन्मोत्सव

0

ललितपुर। शहर के इलाईट चौराहा के पास स्थित शिव मंदिर के पावन स्थान पर वृन्दावन धाम से पधारे कथा वाचक पं.जयनारायण शास्त्री की दिव्य संगीतमय श्रीमद भागवत कथा जारी बनी हुई है।

वृन्द्रावनधाम से पधारे कथा वाचक पं.जयनारायण शास्त्री की मधुर वाणी से रोजाना दोपहर 1 बजे से 4 बजे तक दिव्य संगीतमय श्रीमद भागवत कथा श्रद्धालुओं को रसपान करने को मिल रही है। कथा के पारीक्षत रूपसिंह यादव बने हुये है। आज श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की कथा के दौरान शिव मन्दिर में उत्सव का माहौल था। कृष्ण की भक्ति में सराबोर श्रद्धालु आज कृष्ण जन्मोत्सव पर जमकर नाचे और उपहारो की वर्षा की भागवत कथा सुनाते हुये पं.जयनारायण शास्त्री ने कहा कि द्वापर युग में एक कंस के अत्याचार से समूची पृथ्वी थर्रा उठी थी, कंस का वध कर समाज को अत्याचार से मुक्त कराने और राष्ट्र को सम्पन्न बनाने के निमित्त भगवान ने कृष्ण के रूप में अवतार लिया था, किन्तु आज समाज में भ्रष्टाचार, आराजकता, दहेज, हिंसा रूपी कंस मुंह बाये खड़े हुये है। जिन्होने समूचे देश को अपनी चपेट में ले लिया है। इन तमाम कंसो से निपटने के लिये अब एक कृष्ण से काम चलने वाला नहीं है। आवश्यकता है घर घर में कृष्ण व राम के नैतिक मूल्यों की स्थापना की ताकि हर व्यक्ति राम और कृष्ण जैसा आचरण कर समाज को शान्तिमय बनाये तभी राष्ट्र सुख शान्ति के पथ पर चलकर जगद्गुरु के पद पर पुन: आसीन हो सकेगा।

उन्होंने कहा कि भगवान राम कृष्ण का जन्म सच्चे अर्थों में मानवता की स्थापना के लिये हुआ था। परमात्मा ने पृथ्वी पर मनुष्य के रुप में ही जन्म लिया और सम्पूर्ण मानव जगत को मानवता का पाठ पढ़ाया। पं.जयनारायण शास्त्री ने आगे कहा कि भारत देश की व्यवस्थाये आज भी भगवान भरोसे चल रही है और सन्त महात्माओं का तपोबल आज भी हमे सम्बल प्रदान कर रहा है। उन्होंने इस मौके पर कृष्ण जन्म और उनकी बाल लीलाओं का विस्तार से वर्णन किया और दिनांक 2 मार्च को रूक्मणी विवाह बड़ी ही धूमधाम से सम्पन्न होगा।

कथा में पैड पर केहर सिंह राजपूत, आरगिन पर सोनू विश्वकर्मा, ढोलक पर  दीपक संगत दे रहे है। इस दौरान कृष्णा परशु परिहार, आभा यादव, सुमन संज्ञा, कुसुम यादव, पिंकी गुप्ता, सुषमा नामदेव, रेखा पाण्डेय, प्रभा यादव, सुमित्रा शेखावत, सरोज समाधियां, राकेश देवीजाट, मक्खन साहू, विराशा राठौर, मुन्नी विश्वकर्मा, गायत्री पाण्डेय, शकुंतला सुड़ेले, सरिता साहू, जसवन्त परिहार कक्का, शिवम परिहार, सनत परिहार, अरविन्द गुप्ता, धर्मराजा बुन्देला, रवि राजा, कृष्णा विश्वकर्मा, सोनू पाठक, रोहित शुड़ेले, दिनेश राठौर, अभिषेक नामदेव, रानू मैट्रो , शैलेंद्र परिहार, प्रकाश परिहार, विजय राय, अजय राय, पारस आदि का विशेष सहयोग प्राप्त हो रहा है।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/convbkxu/bundelkhandkhabar.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352

LEAVE A REPLY