रक्तदान कर बचाई एक मासुम की जान

रक्तदान कर बचाई एक मासुम की जान

0

ललितपुर। भाईचारे की अनूठी मिसाल के लिए मशहूर जनपद ललितपुर में समाज सेवा के एक से बढक़र एक अनुपम उदाहरण आयोजन देखने को मिलते हैं।ऐसा ही एक मामला रविवार को सामने आया है, जिसमें मध्य प्रदेश के जिला अशोकनगर अंतर्गत मुंगावली निवासी सूरज विश्वकर्मा के 8 माह के पुत्र राम विश्वकर्मा को गंभीर बीमारी के चलते रक्त की आवश्यकता पड़ी।

यह सूचना पाते ही जय अंबे रक्तदान समिति के अध्यक्ष दीपक राठौर ने तत्काल बच्चे को रक्त मुहैया कराने के लिए 39 वीं बार रक्तदान किया। इस दौरान दीपक राठौर ने कहा कि मानव सेवा करना ही सबसे बड़ा धर्म होता है, इसलिए मानव जाति की सेवा करते रहें। उन्होंने कहा कि रक्तदान एक ऐसा महान कार्य है कि जिससे दूसरों के जीवन की रक्षा हो सकती है। इसलिए लोग अपने मन से भ्रांतियों को दूर कर रक्तदान के लिए आगे आए।

इस अवसर पर आशीष गोस्वामी, दुर्गेश रजक, पुष्पेन्द्र, हरीओम, दीपेश राजा के अलावा अनेक लोग मौजूद रहे।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/convbkxu/bundelkhandkhabar.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352

LEAVE A REPLY