गरौठा विधायक जवाहर लाल राजपूत ने विधानसभा में उठाए स्प्रिंकलर और सूखे से जुड़े सबाल

जलशक्ति मंत्री ने राजपूत के सवाल के जवाब में कहा- 11 परियोजनाएं पूर्ण होते ही बुझेगी बुंदेलखंड की प्यास

0

झांसी. गरौठा विधानसभा से विधायक जवाहर लाल राजपूत ने  बुंदेलखंड में पडऩे वाले सूखे के मुद्दे को विधानसभा में उठाया. विधायक ने यहां बारिश के अभाव में सिंचाई की समस्या और स्प्रिंकलर योजना और धसान व बेतवा के व्यर्थ में बहने वाले पानी को संरक्षित करने को लेकर सवाल किया.

विधायक जवाहर राजपून ने कहा कि बेतवा नदी पर एक ढिकौली लिफ्ट कैनाल जो बहुत बड़ा जलाशय है. क्या उसको कार्ययोजना में लिया जाएगा. दूसरा धसान नदी से प्रधानमंत्री स्प्रिंकलर सिंचाई योजना जलालपुरा- सिमरधा और सोनकपुरा-इमलौटा बनी हुई है. उस पर यदि धन आवंटन हो जाएगा तो बहुत बड़ा काम हो जाएगा. क्योंकि हमारे यहां आज भी लोग सूखे के कारण खेती नहीं कर पा रहे हैं. हजारों एकड़ जमीन बिना बुआई के खाली पड़ी है. हैंडपंप पानी नहीं दे रहे हैं . सूखे पर विधायक ने कहा कि अन्य जगहों पर तो बारिश हो रही है और बाढ़ भी आ जाती है, लेकिन हमारे यहां केवल मध्य प्रदेश से बहकर पानी ही आता है. अगर मध्य प्रदेश में बारिश नहीं हो तो हमारे यहां तो पानी का बहुत बड़ा संकट हो जाता है.-

इस पर जल शक्ति मंत्री ने कहा कि हमारा स्प्रिंकलर पूरी तरीके से तैयार है. इसके लिए धन आवंटन हो चुका है. बहुत जल्दी हम इसका लोकार्पण करने वाले हैं. बुंदेलखंड को इसका लाभ मिलने वाला है. धसान और बेतवा के सवाल पर जल शक्ति मंत्री ने कहा कि बहुत बड़ी कार्ययोजना बनाई गई है. 11 परियोजनाएं जो हमारी चल रही थीं, उनको पूर्ण करके बहुत शीघ्र बुंदेलखंड की जनता जनार्दन को समर्पित करने वाला हूं.

गरौठा विधायक जवाहर लाल राजपूत ने कहा कि बुन्देलखंड में लगातार सूखा पड़ रहा है. विधानसभा गरौठा में 15 साल से सूखा पड़ रहा है. विधायक राजपूत ने कृषि विभाग के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि 2 वर्ष से तो बिल्कुल भी बारिश नहीं हुई है. यहां बेतवा और धसान नदी बहती है, लेकिन पिछली सरकारों ने यहां कोई कार्य नहीं किया. विधायक ने कहा कि धसान नदी और बेतवा का पानी नीचे बहकर निस्प्रयोज्य हो जाता है. हमारे यहां आज भी लोग पानी मोल खरीद रहे हैं. सिंचाई का कोई ऐसा संसाधन नहीं जुट पाया. लेकिन इस सरकार में काम हो रहा है. उन्होंने कहा कि हमारे यहां जल स्तर इतना घट गया है कि हैंडपंप सूख गए हैं . पानी नहीं दे रहे हैं. दूसरी जगह एक दो किलोमीटर दूर से पानी लाना पड़ता है. यहां लोग पानी मोल खरीद रहे हैं और यहां एरच बांध का काम रुका पड़ा है. उसे कब शुरू कराया जाएगा.

गरौठा विधायक के सवालों पर जल शक्ति मंत्री ने एक एक कर दिए जवाब

गरौठा विधायक जवाहर लाल राजपूत के सवालों पर जल शक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह ने विधायक राजपूत के प्रश्न का समर्थन करते हुए प्रशंशा की. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में पीने के पानी का हमेशा से ही संकट रहा है, जिसके समाधान के लिए हमारे मुख्यमंत्री और भारत सरकार बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र में बहुत वृहद परियोजना जिसकी लागत 15000 करोड़ रुपये है, उसे शुरू कर दिया है. इस पर तेजी से काम चल रहा है. इसके प्रत्यक्ष गवाह हमारे जवाहर लाल राजपूत भी हैं. विधायक राजपूत द्वारा स्प्रिंकलर योजना पर पूछे गए सवाल पर मंत्री ने कहा कि हमारा स्प्रिंकलर पूरी तरीके से तैयार है. इसके लिए धन आवंटन हो चुका है. बहुत जल्दी हम इसका लोकार्पण करने वाले हैं. बुंदेलखंड को इसका लाभ मिलने वाला है. धसान और बेतवा के सवाल पर जल शक्ति मंत्री ने कहा कि बहुत बड़ी कार्ययोजना बनाई गई है. 11 परियोजनाएं जो हमारी चल रही थीं, उनको पूर्ण करके बहुत शीघ्र बुंदेलखंड की जनता जनार्दन को समर्पित करने वाला हूं. जिससे सिंचाई की समस्या का समाधान होगा. विधायक राजपूत के तीसरे और एरच बांध के सवाल पर मंत्री ने कहा कि संपूर्ण बुंदेलखंड जानता है कि पिछली सरकार के जो कुकृत्य थे उसकी जांच हो रही है. जांच की रिपोर्ट बहुत जल्द आने वाली है. मैं भी लगा हुआ हूं. रिपोर्ट आते ही इसका शुभारंभ करूंगा. शीघ्र अति शीघ्र इसको पूर्ण करके हम जनता जनार्दन को समर्पित करेंगे.


Warning: A non-numeric value encountered in /home/convbkxu/bundelkhandkhabar.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352

LEAVE A REPLY