पानी के मुद्दे पर बुंदेलखंड उत्कृष्टता केंद्र का शुभारंभ

पानी के मुद्दे पर बुंदेलखंड उत्कृष्टता केंद्र का शुभारंभ

0

निवाड़ी – डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स संस्था के प्रांगण में पानी के विषय पर हितग्राहीयो के साथ साझा समझ बनाते हुए सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस का उद्घाटन किया गया | आज की कार्यशाला में बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के पर्यावरण और विकास के अध्ययन केन्द्र के सहायक प्रोफेसर डॉ. संदीप आर्य, एग्रोनॉमी विभाग से सहायक प्राध्यापक डॉ. संतोष पांडेय, जनसंचार विभाग के प्रमुख डॉ. कौशल त्रिपाठी, नगर परिषद ओरछा से श्री प्रताप सिंह खेंगर और आंगनवाड़ी सुपरवायजर शशि कुशवाहा ओरछा, कार्यकर्ता संध्या तौमर और वविता तौमर, ग्राम राजपुरा के सरपंच श्री देवी सिंह राजपूत आदि मौजूद थे |
आज की कार्यशाला का संचालन डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स संस्था के वरिष्ठ कार्यक्रम निदेशक श्री संदीप खानवलकर ने किया। उन्होंने बुंदेलखंड में हर तीसरे वर्ष बन रहे सूखे के हालत से निपटने के लिए पानी के मुद्दे पर एक समाधान केंद्र बनने पर जोर दिया। इस समाधान केंद्र में तीन बिंदु पर कार्य किया जायेगा ये विन्दु है तकनीकी, समुदायिक सहभागिता और क्षमता वृद्धि और जानकारी का संचार | हमारे समुदाय के हर एक व्यक्ति को पानी के मुद्दे पर जुड़कर रहना होगा और समझना होंगा तभी पानी को बचाया जा सकता है।

आज हम देखते है कि पिछली 20वी शताब्दी में कुल 6 से 7 बार सूखे के हालात उत्त्पन्न हुए होंगे किन्तु 21वी सदी में अब तक बुंदेलखंड में 10 से ज्यादा बार सूखे के हालात उत्त्पन्न हो गए | भविष्य में यह स्थिति और भी विकराल रूप ले सकती है | आंगनवाड़ी सुपरवायजर सुश्री शशि कुशवाहा जी ने बताया की जब स्थिति धीमे-धीमे बदलती है तब पता नहीं लगता लेकिन जब आप किसी एक जगह से दूसरी जगह जाकर दशको तक रहो और पुनः अपनी जगह पर वापिस आओ, तो समझ जायेंगे की स्थिति क्या है। आज ऐसे हालत हो गये है कि पहले हमारे बुंदेलखंड के तालाबो और कुओ में जहाँ पर पहले इनका जल स्तर ऊपर तक होता था आज इन्ही कुओं में पानी का स्तर कितने नीचे चला गया और धीरे-धीरे यह और कम हो जायेगां | क्या आज जो पानी हम घरो में, खेती में, व्यवसाय आदि में इस्तेमाल करते है अगर उसे प्लान के अनुसार करे तो पानी को बचाया जा सकता है क्योकि कोई भी पानी को उत्पन्न नहीं कर सकता है |

सभी विषय विशेषक ने सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस के उद्घाटन के मौके पर अपने-अपने विचार रखे | आज की हितग्राही कार्यशाला में डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स संस्था से डॉ. अरुण कुमार, डॉ. के. विजय लक्ष्मी, कर्नल शांतनु चौधरी, मेनेजर नेहा अग्रवाल, पानी वाटर टीम से शुभम शर्मा, सहायक रेडियो प्रबंधक चन्द्र प्रकाश निरंजन, अनुराग, रिषभ, ललित गंगवार, रेडियो रिपोर्टर मनीष समाधिया, वर्षा रैकवार और मातादीन कुशवाहा आदि मौजूद रहे |


Warning: A non-numeric value encountered in /home/convbkxu/bundelkhandkhabar.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352

LEAVE A REPLY