सपा कार्यालय पर धूमधाम से मनायी गयी महाराजा सुहेलदेव जयन्ती

0

 

 

 

                                                                                                                                                                                                                                                                              ललितपुर स्टेशन रोड स्थित समाजवादी पार्टी कार्यालय पर बसन्त पंचमी के अवसर पर महाराजा सुहेलदेव की जयन्ती धूमधाम से मनायी गयी। कार्यक्रम की अध्यक्षता सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. ने व संचालन महासचिव कृष्ण स्वरूप निरंजन ने किया।

कार्यक्रम में सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. ने कहा कि सुहेलदेव श्रावस्ती से अर्ध पौराणिक भारतीय राजा हैं। कहा जाता है कि इन्होंने 11वीं शताब्दी की शुरुआत में बहराइच में गजनवी सेनापति सैयद सालार मसूद गाजी को पराजित कर मार डाला था। 17वीं शताब्दी के फारसी भाषा के ऐतिहासिक कल्पित कथा मिरात-ए-मसूदी में उनका उल्लेख है। 20वीं शताब्दी के बाद से, विभिन्न हिंदू राष्ट्रवादी समूहों ने उन्हें एक हिंदू राजा के रूप में चिह्नित किया है जिसने मुस्लिम आक्रमणकारियों को हरा दिया। आगे बताया कि इतिहास के अतीत में जाकर देखें तो पायेंगे कि सालार मसूद और सुहेलदेव की कथा फारसी भाषा के मिरात-ए-मसूदी में पाई जाती है। यह मुगल सम्राट जहांगीर (1605-1627) के शासनकाल के दौरान अब्द-उर-रहमान चिश्ती ने लिखी थी। पौराणिक कथा के अनुसार, सुहेलदेव श्रावस्ती के राजा के सबसे बड़े पुत्र थे। पौराणिक कथाओं के विभिन्न संस्करणों में, उन्हें सकरदेव, सुहीरध्वज, सुहरीदिल, सुहरीदलध्वज, राय सुह्रिद देव, सुसज और सुहारदल समेत विभिन्न नामों से जाना जाता है। इस दौरान अजीज कुरैशी, खुशालचंद्र साहू, विजय सिंह शिक्षक, प्रदीप जैन चिगलौआ, अमर सिंह भैरा, सुरेंद्र पाल सिंह, तिलक सिंह क्वोलारी, राजेश झोजिया, हरगोविंद चौरसिया, राजेश तिवारी, राम प्रताप सिंह, राजकुमार यादव, अरविंद कुमार, अजय यादव आदि मौजूद रहे।


Warning: A non-numeric value encountered in /home/convbkxu/bundelkhandkhabar.com/wp-content/themes/Newspaper/includes/wp_booster/td_block.php on line 352

LEAVE A REPLY