बीमार, बेबस गरीबों के लिए लाइफ लाइन बने योगी आदित्यनाथ, 217 मरीजों के इलाज को दिए ढाई करोड़

0
बुन्देलखण्ड के ललितपुर, जालौन, झांसी समेत कई जिलों के गरीब मरीजों के लिए योगी सरकार मसीहा साबित हुई है. जिन लोगों के पास पैसा नहीं था और वह दर्द के बीच घुटकर मौत का इंतजार कर रहे थे उनके लिए बीजेपी सरकार जीने की राह खोल रही है.
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को वैसे तो सख्त मिजाज का माना जाता है, लेकिन उनका गरीब लोगों के प्रति प्रेम अक्सर झलकता हुआ दीखता है. CM बनने के बाद से अब तक योगी आदित्यनाथ कई ऐसी योजनायें ला चुके हैं जो सीधे गरीबों को मदद पहुंचा रहीं हैं. अब योगी सरकार ने उन बेबस और बीमार लोगों की भी सुधि ली है जो पैसे के आभाव में अपनी गंभीर बीमारियों का इलाज नहीं करा पाते थे. योगी सरकार ने विशेष अभियान पर अपने विधायकों व कार्यकर्ताओं को लगाकर उन लोगों की जानकारी जुटाकर आर्थिक मदद जारी की जो धनाभाव में  इलाज कराने में अक्षम थे. इसी के तहत उन्होंने  विभिन्न जिलों के 217 जरूरतमंद लोगाें को गम्भीर बीमारी के इलाज के लिए दो करोड़ 54 लाख 86 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की है।
         सरकारी प्रवक्ता के अनुसर श्री योगी  द्वारा यह वित्तीय मदद कैंसर, किडनी, हृदय, हड्डी, ब्रेन ट्यूमर, न्यूरो, रीढ़, पथरी, हेपेटाइटिस आदि के गम्भीर रोगों के उपचार के लिए स्वीकृत की गयी है।
बुन्देलखण्ड समेत इन जिलों के लोगों को मिली मदद
मुख्यमंत्री   द्वारा किडनी के इलाज के लिए फैजाबाद के महादेव यादव, सोनभद्र के जाहिद हुसैन, सिद्धार्थनगर के गनेश शंकर दूबे, बांदा की श्रीमती कविता मिश्रा, रायबरेली के प्रभू नारायण सिंह, जालौन के  सौरभ तिवारी, लखनऊ के  विमल किशोर समेत अनेक  मरीजों को वित्तीय सहायता प्रदान की गयी।
         इनके अलावा कुशीनगर की श्रीमती बिस्मिल्लाह खातून, मऊ के शिवचन्द राजभर, इलाहाबाद के मुख्तार अहमद, बाराबंकी के  विजय रस्तोगी, गोण्डा के  ईशू शुक्ला, चन्दौली के चन्दन यादव, रायबरेली के करूणा शंकर शर्मा, जालौन के  रामकरन, ललितपुर के  अमित सिंह सहित कई अन्य मरीजों को कैंसर के इलाज के लिए आर्थिक मदद उपलब्ध करायी गयी।
        इसी प्रकार, इलाहाबाद के  अखिलेश सिंह, जौनपुर के मो0 अनफ, महाराजगंज के बेनी पटेल, पीलीभीत की श्रीमती ओमवती, फैजाबाद की कु0 सरस्वती, बलिया की कु0 अनन्या, रायबरेली के  अवधेश नारायण शुक्ल, संभल के  राधेश्याम मौर्य, कानपुर नगर की सुश्री सुहाना सहित अन्य को हृदय के इलाज के लिए आर्थिक मदद उपलब्ध करायी गयी।
       प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री द्वारा बाराबंकी की श्रीमती माया देवी, वाराणसी के शम्सुद्दीन को न्यूरो के इलाज के लिए और जौनपुर के चन्द्रभान चौहान, हमीरपुर की श्रीमती गीता देवी, लखनऊ के कपिल शंकर को ब्रेन से सम्बन्धित इलाज के लिए, वाराणसी के मास्टर अमित कुमार, लखनऊ की सुश्री रेशम परवीन को रीढ़ की हड्डी के इलाज के लिए, सीतापुर की कु0 राजेश्वरी एवं कु0 शीला देवी को पथरी के उपचार के लिए, कानपुर नगर के  दुर्गेश सिंह, उन्नाव के मैकूलाल को हेपेटाइटिस बी के उपचार के लिए, लखीमपुर के ऋषिकेश को एप्लास्टिक एनीमिया के उपचार के लिए, कुशीनगर के  महेन्द्र चौहान और उन्नाव की श्रीमती रामदुलारी को घुटने के उपचार के लिए, बलिया की श्रीमती लाली सिंह को हड्डी के उपचार के लिए तथा रायबरेली की श्रीमती कुसुम तिवारी को वाॅल्व के इलाज के लिए आर्थिक मदद उपलब्ध करायी गई।
अन्य जरूरतमन्दों को भी इलाज के लिए मदद स्वीकृत की गयी है।

 

LEAVE A REPLY