केन्द्रीय मंत्री की फटकार से कांपने लगी यह स्टाफ नर्स,हाथ जोड़कर मांगी माफ़ी, साधू पर लगाया था अंडा मांगने का झूठा आरोप

0

हमीरपुर। हमीरपुर जिला मुख्यालय स्थित राजकीय संयुक्त हास्पिटल में औचक निरीक्षण पर गयी केन्द्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, महिला चिकित्सक (वार्ड सिस्टर) के मुहं से वार्ड में भर्ती साधू बाबा पर  उनसे अंडा दूध मांगे जाने का आरोप लगाये जाने पर गुस्से से लाल हो गईं। मंत्री ने सीएमएस और पुलिस के सामने ही सिस्टर को कड़ी फटकार लगाई तो सिस्टर हाथ जोड़कर माफी मांगने लगी। मंत्री ने सिस्टर के साथ सीएमएस को जमकर फटकार लगाई और अस्पताल की व्यवस्थाएं ठीक करने को कहा.

केन्द्रीय राज्यमंत्री आज हमीरपुर में जिला सरकारी हस्पिटल का जायजा लेने पहुंची थी। वहां मरीजों के वार्ड में मंत्री को देख एक साधू बाबा ने कहा कि उन्हें सिर्फ अस्पताल से 4 रोटी मिलती है। बाबा ने शिकायत की कि रोटी मांगने पर भी उसे रोटी नही दी जाती है जिससे वह भूखा रहता है। पानी की तरह दाल दी जाती है। इस पर मौजूद वार्ड की इंचार्ज सिस्टर किशना कुमारी भड़क गयी। सिस्टर ने मंत्री के सामने ही सफाई देती हुयी बाबा पर आरोप लगाया कि यह साधू  जरूर है मगर रोज अंडा दूध मांगता है। वार्ड में फालतू बातें करता है जिससे लोग परेशान है। इतनी बात सुनते ही राज्यमंत्री गुस्से से भड़क गयी और वार्ड की सिस्टर को फटकारते हुये कहा कि यह बाबा भगवा रंग का कपड़े पहने है और यह अंडा दूध नही मांग सकता है। मंत्री की कड़े तेवर देख  सिस्टर कांपने लगी और हाथ जोड़कर मंत्री से माफी मांगने लगी। मंत्री ने तुरंत भोजन की थाली मंगवायी जिसमें भोजन की गुणवत्ता देख उन्होंने सीएमएस को फटकारा।

बर्न रूम में एसी न चलने से मंत्री भड़की

बताते है कि जैसे ही मंत्री वार्ड के बर्न रूम गयी तो वहां गर्मी में आग से झुलसे मरीजों को बेहाल होते देख वह नाराज हो गयी। उन्होंने सीएमएस से व्यवस्था मेें सुधार लाने को कहा। कई मरीजों ने मंत्री से शिकायत की कि उन्हें दवायें बाहर से लिखी जाती है। इस पर मंत्री ने सीएमएस से कहा कि यदि दवायें बाहर से लिखी गयी तो कार्यवाही होगी।

क्या कहती है राज्यमंत्री

केन्द्रीय राज्यमंत्री ने मीडिया से बातें करती हुयी कहा कि सरकारी अस्पताल में भारी अव्यवस्थायें है और सवालों से बचने के लिये मरीजों पर अंडा दूध मांगने का आरोप स्टाप ने लगाया। उन्होंने कहा कि मरीजों को भोजन भी घटिया दिया जा रहा है और गंदगी का अंबार पाया गया। अब यदि दो दिन में व्यवस्था ठीक नही हुयी तो सीएम योगी से शिकायत कर कार्रवाई करायी जायेगी।

LEAVE A REPLY