उमा ने कहा- ज्यादा मंत्री होना मतलब ज्यादा खाने वाले गिद्ध हो जाना, बोलीं- बुंदेलखंड राज्य के पक्ष में नहीं मध्य प्रदेश के लोग

0

भोपाल/झाँसी : उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने मंत्रिमंडल के गठन पर कहा है कि सरकार में मंत्रियों की संख्या से कुछ नहीं होता है. बुन्देलखण्ड के 19 विधायकों में सिर्फ एक मूल निवासी विधायक को ही मंत्री बनाने के सवाल पर उमा भारती ने कहा है कि ज्यादा मंत्री बनाने का मतलब होता है ज्यादा खाने वाले गिद्ध. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के लोग बुंदलेखंड राज्य के पक्ष में नहीं हैं. उमा भारती भोपाल में अपने सरकारी आवास पर पत्रकारों से बात कर रही थीं. वह झाँसी-ललितपुर सीट से सांसद भी हैं.

यहाँ उमा भारती ने कहा कि कि योगी आदित्य नाथ के मुख्यमंत्री बनने के साथ कई मंत्रियों ने भी शपथ ली है. दूसरी सूची भी आएगी जिसमें कुछ नए चेहरों को भी जगह मिल सकती है. सिर्फ एक ही बुन्देलखण्डी को मंत्री बनाए जाने पर उन्होंने कहा कि ज्यादा मंत्री बनाने से कुछ नहीं होता है. ज्यादा मंत्री बनाने का मतलब है ज्यादा खाने वाले गिद्धों को न्यौता देना. उन्होंने बसपा सरकार का उदाहरण देते हुए कहा कि बसपा सरकार में मायावती ने बुंदेलखंड में कई मंत्री बना दिए थे. उनके सभी मंत्री लूट खसोट में लग गए थे. मंत्री-विधायक बेतवा की रेत खा गए. बुन्देलखण्ड को मंत्री की नहीं विकास की जरूरत है. भाजपा सरकार आई है तो अब यहां विकास होगा.

बुन्देलखण्ड राज्य के पक्ष में नहीं एमपी के लोग : उमा भारती ने बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण के सवाल पर कहा कि बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण में सबसे बड़ी अड़चन है इसके दो राज्यों में बंटा होना. उन्होंने कहा कि बुन्देलखण्ड में मध्यप्रदेश के 6 जिले आते हैं, लेकिन यहां के लोग बुन्देलखण्ड राज्य के साथ जाने को तैयार नहीं हैं. इसके लिए अब एक ही विकल्प है कि यूपी के जिलों से ही बुन्देलखण्ड राज्य का निर्माण कराया जाए. जरूरत पड़े तो मिर्जापुर, कानपुर देहात के इलाकों को भी इसमें समायोजित कर लिया जाए.

कांग्रेस ध्वस्त, विपक्ष लायक भी नहीं रही : उमा भारती ने कहा है कि कांग्रेस पूरी तरह से खत्म हो चुकी है. देश में जब कांग्रेस सत्ता में थी तो भाजपा विपक्ष के रूप में जनता के मुद्दों पर सरकार को घेरकर बड़े फैसले कराती थी, लेकिन यह काम अब खुद भाजपा को ही करना पड़ रहा है.

LEAVE A REPLY