बुन्देलखंड के एक और छात्र को मौत की नींद सुला गया ब्लू व्हेल गेम

0
bluewhaleदतिया। अब तक किसान आत्महत्या के लिए चर्चित बुंदेलखंड वर्ल्ड के सबसे खतरनाक गेम ब्लू व्हेल को लेकर भी मौतों के लिए नई पहचान बना रहा है. मध्यप्रदेश के दतिया जिले में 11वीं कक्षा के एक छात्र की खुदकुशी करने की जो वजह बताई जा रही है उसके तार ब्लू व्हेल गेम से जुड़ रहे हैं . बुंदेलखंड का यह तीसरा मामला है जिसमें ब्लू व्हेल गेम का टास्क पूरा करना छात्र की मौत की वजह बन गया. इसके पहले हमीरपुर और दमोह में भी छात्र इस गेम का शिकार बन चुके हैं.
             दतिया पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी के मुताबिक स्थानीय छात्र शिवम दांगी ने गुरुवार और शुक्रवार की दरमियानी रात फांसी लगा ली थी। उसके हाथ पर कट के निशान मिलने से ब्लू व्हेल गेम की आशंका प्रतीत हो रही है।  उन्होंने कहा कि हालांकि अभी छात्र का मोबाइल लॉक होने की वजह से मौत के कारण पूरी तरह स्पष्ट नहीं हुए हैं। विशेषज्ञों द्वारा मोबाइल खोला जा रहा है, जिसके बाद जांच पूरी हो सकेगी।
            पुलिस अधीक्षक ने कहा कि परिजन ने भी इस बात की पुष्टि की है कि शिवम लंबे समय तक मोबाइल पर व्यस्त रहता था, ऐसे में हर पहलू की बारीकी से जांच की जा रही है।
            जिला मुख्यालय स्थित कोतवाली थाना क्षेत्र के पंडा का बाग में रहने वाले कैलाश दांगी को कल सुबह अपने बेटे के इस कदम बारे में सूचना मिली, जिसके बाद उन्होंने पुलिस को इस बारे में सूचना दी। बताया जा रहा है कि शिवम पूरी रात मोबाइल पर व्यस्त था, जिसके बाद उसने फांसी लगा ली।

 

LEAVE A REPLY