रिलीव हो चुके चकबंदी अफसर बैक डेट में जारी कर रहे थे आदेश, डीएम के छापे के बाद पहुंचे सलाखों के पीछे

0
ललितपुर में पकडे गए चकबंदी अफसर

@कुंदन पाल 

ललितपुर। दिन बुधवार, जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह के सामने महरौनी के ग्राम सुनवाहा का एक व्यक्ति पहुंचता है। फरियाद करते हुए कहता है.. साहब, चकबंदी अधिकारी बानपुर कल्याण प्रताप सिंह का स्थानांतरण एक महीने पहले जिला बिजनौर हो गया है और वह रिलीव भी हो चुके हैं। लेकिन वह अपने विभाग के कुछ अधिकारियों के साथ अपने सरकारी आवास पर लोगों से पैसा लेकर पुरानी तारीख पर चकबन्दी सम्बन्धी कार्य कर रहे हैं ।

यह बात सुनते ही डीएम मानवेन्द्र सिंह चौंक जाते हैं। वे कहते हैं ऐसा कैसे हो सकता है। फिर भी इसे गंभीरता से लेते हुए बिना समय गंवाए सच्चाई को परखने वह उपजिलाधिकारी सदर घनश्याम वर्मा को तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश देते हैं और निर्देश मिलते ही वह मौके के लिए निकल पड़ते हैं।

उपजिलाधिकारी सदर ने क्षेत्राधिकारी सदर हिमांशु गौरव व पुलिस बल के साथ सुबह 11.10 बजे जिला जेल के सामने स्थित सरकारी कालोनी में स्थित चकबन्दी अधिकारी कल्याण प्रताप सिंह के सरकारी आवास पर छापा मारा तो आवास के बाहर 20, 25 किसान खड़े मिले। वह पुलिस को देखकर भाग गए।

जब आवास के बाहरी कक्ष में देखा तो चकबन्दी अधिकारी कल्याण प्रताप सिंह के साथ सहायक चकबन्दी अधिकारी बानपुर विजय कुमार श्रीवास्तव ,सहायक चकबन्दी अधिकारी बानपुर लक्ष्मी नारायण ,चकबन्दी लेखपाल सोनू कुशवाहा , टाईपिस्ट महेंद्र कुमार व सुगर सिंह वहां मौजूद मिले ।

एक माह पुराने आदेश किए जा रहे थे टाइप
इस दौरान मौके पर पाया गया कि चकबन्दी न्यायालय के सरकारी अभिलेख भारी संख्या में मौके रखे थे और टाईपिस्ट महेंद्र कुमार द्वारा एक माह पुराने आदेश टाईप किये जा रहे थे ।

मौके से किया सभी को गिरफ्तार-
इस दौरान चार सूटकेस मिले , जिन में 85 हजार रुपये बरामद हुए । इस दौरान टाईपिस्ट महेंद्र कुमार मौका देखकर भाग निकला , तो वहीं चकबन्दी अधिकारी , कल्याण प्रताप सिंह , सहायक चकबन्दी अधिकारी विजय कुमार श्रीवास्तव, सहायक चकबन्दी अधिकारी लक्ष्मी नारायण , चकबन्दी लेखपाल सोनू कुशवाहा को पकड़ लिया गया।

कोतवाली पुलिस ने उपजिलाधिकारी सदर घनश्याम वर्मा की तहरीर पर सभी पांचों के विरूद्ध धारा 420, 468 ,120 बी , 3 /13 भ्रष्टाचार अधिनयम के तहत मामला दर्ज किया गया । जिलाधिकारी के द्वारा की जा रही भ्रष्ट अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही की जनपद के नागरिकों द्वारा सराहना की जा रही हैं ।

क्या बोले ललितपुर के डीएम
जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह कहा कि भ्रष्टाचार में जो भी अधिकारी लिप्त पाए जाते हैं उनके विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जा रही हैं ,

LEAVE A REPLY