राजबब्बर, प्रदीप जैन समेत कई कांग्रेसी नेता इलाहाबाद स्पे. कोर्ट में पेश, जमानत पर संशय

0

IMG-20190315-WA0017

लखनऊ। चार साल पूर्व समाजवादी पार्टी सरकार के खिलाफ पदर्शन के बाद कांग्रेस के कई बड़े नेता कानून की फांस में फंस गए हैं। उस दौरान अखिलेश यादव सरकार के विरोध में विधानसभा घेरने पहुंचे कांग्रेसियों पर जमकर लाठीचार्ज हुआ था। पुलिस से झड़प और तोडफ़ोड के आरोप में 307 समेत कई संगीन धाराओं में कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर, पूर्व मंत्री प्रदीप जैन आदित्य आदि समेत कई नेताओं पर मुकदमा दर्ज किया गया था। इसी मुकदमे पर अदालत से गैर जमानती वारंट हो गए थे। सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक यह नेता आज इलाहाबाद स्पेशल कोर्ट में पेश हो गए हैं। यहां उनकी जमानत को लेकर सुनवाई चल रही है। उनको जमानत मिलेगी या नहीं इसको लेकर अभी असमंजस बरकरार है।
जिन नेताओं को इलाहाबाद स्पेशल कोर्ट में पेश किए जाने की खबर है उनमें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर, पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य, राजेश राम त्रिपाठी आदि समेत कई नेता शामिल हैं।
गौरतलब है कि 17 अगस्त 2015 को लखनऊ के हजरतगंज थाने में कांग्रेस नेताओं के खिलाफ 307 समेत कई गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। कांग्रेस ने अखिलेश यादव की सरकार के दौरान लखनऊ में जबरदस्त प्रदर्शन किया था। विधानसभा का घेराव करते समय कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया था। इसमें राजबब्बर, प्रदीप जैन आदित्य समेत कई नेता घायल भी हुए थे। बाद में पुलिस ने कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। इसी मामले को लेकर हाल ही में गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिए गए थे। जानकारी के मुताबिक गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद कांग्रेस नेता इलाहाबाद स्पेशल कोर्ट में हाजिर होने पहुंचे हैं। बताया गया है कि कांग्रेसी नेता राजबब्बर, प्रदीप जैन आदित्य, राजेशपति त्रिपाठी इस समय इलाहाबाद विशेष आदालत में पेश हो रहे हैं। वहां से उनको जमानत मिलने को लेकर अभी संशय बरकरार है। कांग्रेस की नजर भी इस पूरे घटनाक्रम पर बनी हुई है।

LEAVE A REPLY