प्रदीप जैन के समर्थन में आए कई संगठन, कुशवाहा,स्वर्णकार व मुस्लिम समाज के साथ व्यापारियों ने बढ़ाई कांग्रेस की ताकत

0

झांसी। झांसी महापौर के लिए चुनाव कल यानि 29 नवंबर को सुबह से शुरू हो जाएगा। यहां मुकाबला दिलचस्प है। महापौर प्रत्याशियों में कांग्रेस ने इस बार पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य को चुनाव की कमान सौंपी तो कई प्रत्याशियों के समीकरण बिगड़ गए हैं। प्रदीप जैन को झांसी में एक जमीनी नेता के रूप में देखा जाता है और इसी को लेकर विपक्षी प्रत्याशी पहले दिन से ही अपनी फाईट प्रदीप जैन से ही बता रहे हैं। अब जब मतदान को एक दिन ही रह गया है तो उसके पहले विभिन्न संगठनों व जातियों के लोगों का प्रदीप जैन के समर्थन में खड़े होने की घोषणा ने भाजपा की नींद उड़ा दी है। इसके साथ ही सट्टा बाजार में भी प्रदीप जैन का भाव सबसे ऊपर हो गया है।

यह रहा प्रत्याशियों पर सट्टे का भाव-
झांसी महापौर के लिए वोटिंग के ठीक एक दिन पहले सट्टा बाजार का भाव सर्वाधिक कांग्रेस प्रत्याशी प्रदीप जैन आदित्य पर है। यहां प्रदीप जैन आदित्य के जीतने के चांस सट्टा बाजार ज्यादा मान रहा है और इसी को लेकर उसका भाव सट्टा मार्केट के हिसाब से 20 पैसे लगा रहा है। यानि यदि कोई एक पैसा लगाता है तो उसे प्रदीप की जीत पर 20 पैसे का भुगतान होगा। वहीं भाजपा प्रत्याशी रामतीर्थ सिंघल को सट्टा मार्केट में दूसरे नंबर पर जगह दी गई है और उस पर एक पैसे के ऐवज में 35 पैसे का भुगतान होगा। वहीं बीएसपी प्रत्याशी बृजेन्द्र व्यास उर्फ डमडम का भाव काफी नीचे रहा है। बीएसपी को एक पैसे पर 80 पैसे तक देने का अॅाफर है। आप को एक पैसा पर 75 पैसा व सपा को एक के ऐवज में सौगुना तक दिए जाने का भाव है। कुल मिलाकर सट्टा बाजार कांग्रेस को झांसी का मेयर के रूप में सबसे दमदार प्रत्याशी मान रहा है और झांसी में प्रदीप जैन की ही जीत को श्योर मानकर लोग पैसा भी लगा रहे हैं।

कुशवाहा, स्वर्णकार व मुस्लिम समाज के समर्थन से बढा कांग्रेस का भाव
प्रदीप जैन को कुशवाहा, स्वर्णकार व मुस्लिम समाज का समर्थन मिलने से कांग्रेस के यहां जीतने के आसार ज्यादा हो गए हैं। प्रदीप जैन को वैसे तो सभी वर्गों का समर्थन है, लेकिन खुलकर कुशवाहा व मुस्लिम के अ ाने के कारण पलड़ा भारी हो गया है। वहीं ब्राह्मण समाज का भी व्यक्तिगत जुड़ाव का वोट प्रदीप के साथ दिख रहा है। व्यापारियों का भी समर्थन कांग्रेस के साथ होने से भाजपा को यहां परेशानी खड़ी होती दिख रही है। फिलहाल भाजपा ने चुनाव को अपने पक्ष में करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है।

प्रदीप की रैली में भारी भीड़ से बदले समीकरण
चुनाव प्रचार खत्म होने के पहले कांग्रेस के प्रदीप जैन की रैली में भारी भीड़ ने विपक्ष की नींद उड़ाई है। इसी को देखते हुए भाजपा, बसपा और दूुसरे दलों के प्रत्याशियों का भाव गिरा है।

LEAVE A REPLY