अदालत में हाजिर हुए दो मुर्गे, दो दिन तक खातिरदारी में जुटी रही थाने की पुलिस

0

भोपाल। आपने अभी तक इंसानों को ही अदालतों में हाज़िर होते देखा होगा, लेकिन इस बार दो मुर्गों की अदालत में पेशी हुई है. दरअसल, कुछ इलाकों में मुर्गे को लड़ा कर हार जीत का खेल खेला जाता है। आपने इससे पहले अदालत में पेशी पर इंसानों को जाते देखा होगा, लेकिन बैतूल जिले में एक अनोखा मामला सामने आया है। यहां पुलिस अदालत के सामने दो आरोपियों के साथ दो मुर्गे को कोर्ट में पेश किया, लेकिन जज ने मुर्गों को अंदर नहीं आने दिया। जज ने जुएं के आरोपियों पर 500-500 रुपए का जुर्माना ठोंका और मुर्गों को उनके मालिकों को सौंपने के आदेश दिए।

-अब तक पुलिस दो दिन से इन मुर्गों की खातिरदारी में जुटी हुई थी, ये मुर्गे थाने के मेहमान बने हुए थे।

 

यह है मामला –

आठनेर थाना इलाके के पुलिस ने बीते दिनों खैरी गांव में मुर्गा लड़ाई पर दांव लगाने के एक अड्डे पर छापा मारा। यहां पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ा था और 9 बाइक के साथ दो मुर्गे भी जब्त किए थे। जबकि दूसरे लोग वहां से फरार हो गए। पुलिस बाइक और मुर्गे साथ लेकर आ गई थी। गिरफ्तार आरोपी के खिलाफ जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई भी कर दी। पुलिस ने बाइक मालिकों का पता ठिकाना तो खोज लिया, लेकिन मुर्गे के मालिक ढूंढने से नहीं मिल रहे। अब पुलिस दो आरोपी के साथ मुर्गोंं को भी गुरुवार को कोर्ट में पेश करेगी। पुलिस के मुताबिक, एक आरोपी को पहले पकड़ लिया था। दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी और मुर्गोंं को अदालत में पेश किया गया।

 

आरोपियों पर 500-500 रुपए का जुर्माना

जुएं में खेलते हुए पकड़े जाने पर जब्त किए गए दो मुर्गों को कोर्ट में पेश किया लेकिन जज ने मुर्गे अंदर लाने से मना कर दिया। टीअाई प्रवीण कुमरे ने बताया कि मुर्गों को कोर्ट के बाहर जीप में ही रखा गया था। जज ने उन्हें अंदर लाने से मना कर दिया। इस बीच जज ने सुनवाई में आरोपियों पर 500-500 हजार का जुर्माना ठोंका और मुर्गों को उनके मालिकों को सौंप दिया है।

LEAVE A REPLY