अस्पताल में नहीं था ऑक्सीजन सिलेंडर, चली गई नवजात शिशु की जान

अस्पताल में नहीं था ऑक्सीजन सिलेंडर, चली गई नवजात शिशु की जान

0
getty image

कुलदीप रावत-
मऊरानीपुर। एक ओर जहां कोरोना की महा मारी को देखते हुए प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाएं सुधारी जा रही है । तो वही मऊरानीपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हालत बहुत खराब बनी हुई है। जहाँ हाल ही में जन्मे नवजात शिशु की ऑक्सीजन न मिलने की बजह से मौत हो गयी। परिजनों ने उच्चाधिकारी से शिकायत कर कार्यवाही की मांग की।

ग्राम इटायल निवासी रोहित अपनी माँ के साथ पत्नी को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रसव के लाया था। जहां पर उपस्थित स्टाफ नर्स के द्वारा जच्चा बच्चा की सकुशल डिलेवरी की गई। लेकिन नवजात शिशु बच्चे की हालत में सुधार न होने की बजह व ड्यूटी पर तैनात महिला चिकित्सक के नदारद होने के चलते नर्स के द्वारा ऑक्सीजन में बच्चे को रखने की सलाह दी गयी। लेकिन पूरे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बच्चे को ऑक्सीजन नही मिल सकी । जिसके चलते नवजात शिशु की मौत हो गयी । जिसकी शिकायत परिजनों ने स्वास्थ्य विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ जिले के अधिकारियों से की।

आपको बता दे कि मऊरानीपुर सामुदायिक स्वास्थ्य के प्रसव वार्ड मात्र रात्रि में स्टाफ नर्स के सहारे चलता है। जहां पर मोटी वेतन पाने वाली महिला चिकित्सक की कागजो में ड्यूटी होने के बाबजूद भी नदारद रहती है। जिसका खामियाजा ग्रामीण क्षेत्र के लोगो के साथ नवजात बच्चों को अपनी जान देकर भुगतना प? रहा है। अब देखने वाली वात यह होगी कि झाँसी जिले के तेज तर्राक जिलाधिकारी इस मामले को संज्ञान में लेकर क्या कार्यवाही करते है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY