सरकारी डाक्टरों को नहीं होगी प्राइवेट प्रैक्टिस करने की आज़ादी: योगी

0

लखनऊ। उप्र के मुख्‍यमंत्री आदित्‍यनाथ योगी ने लखनऊ के केजीएमयू को आज 56 नए वेंटिलेटर की सौगात सौंपी।यहां उन्‍होंने अपने भाषण में कहा कि डॉक्‍टरों को अब मरीजों के प्रति अधिक संवेदनशील होकर काम करना चाहिए। बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं ही हमारा लक्ष्‍य हैं। योगी ने कहा कि डॉक्‍टरों को अपनी प्राथमिकता मरीज का इलाज करना रखना चाहिए और पैसे नहीं, सेवा के लिए काम करना चाहिए। सरकारी डॉक्‍टरों को प्राइवेट प्रैक्टिस करने से भी उन्‍होंने मना किया। उन्‍होंने कहा कि अंतिम व्‍यक्ति तक सेवा का लाभ पहुंचना चाहिए, इसलिए डॉक्‍टरों की संवेदनशीलता ऐसे में बहुत जरूरी है.

मुख्यमंत्री ने डाक्टरों को नसीहत देते हुए कहा कि वह अपना धर्म न भूलें. डाक्टर यदि मरीज से प्यार  से अच्छे से बात करता है तो मरीज की आधी बीमारी वेसे ही ठीक हो जाति है. उन्होंने कहा कि सरकारी चिकित्सकों को अब निजी प्रेक्टिस नहीं करने दी जाएगी. यह आज़ादी इस सरकार में नहीं होगी. यदि एसा हुआ तो कार्रवाई होगी.

LEAVE A REPLY