समय मिला, लेकिन क्या कमलनाथ बचा पाएंगे सरकार ?

0

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजनीति में सोमवार का दिन ऐतिहासिक रहा। सोमवार को राज्यपाल लालजी टंडन अभिभाषण पढ़ने के दौरान हुए हंगामे के कारण कुछ ही मिनट में सदन से निकल गए। इसके बाद खबर आई कि विधानसभा को 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।  लेकिन भाजपा ने राज्यपाल के सामने परेड कराकर अपना शक्ति प्रदर्शन कर कांग्रेस सरकार को अल्पमत में बताया है। वहींं फ्लोर टेस्ट कराने की मांग का लेकर बीजेपी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दाखिल की है। जिस पर सुप्रीम कोर्ट कल मामले की सुनवाई करने का फैसला लिया है।

मध्य प्रदेश विधानसभा में स्पीकर ने बड़ा दांव चल दिया है। विधानसभा 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गई है। विधानसभा स्पीकर ने कोरोना का हवाला देते हुए विधानसभा को स्थगित किया है। आखिर विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च तक के लिए ही क्यों स्थ्‍ागित की गई तो इसकी वजह है कि उस दिन राज्यसभा चुनाव के लिए वोटिंग होनी है। मध्य प्रदेश में तीन विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होना है और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीजेपी में शामिल होने के बाद वहां चुनाव रोचक हो गया है। मध्य प्रदेश में कांग्रेस से दिग्विजय सिंह, फूल सिंह बरैया और बीजेपी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया और डॉक्टर सुमेर सिंह सोलंकी को मैदान में उतारा है। सोलंकी का नामांकन पत्र रद्द हो सकता है लिहाजा पार्टी ने राज्यसभा चुनाव में तीसरा उम्मीदवार भी खड़ा किया है। अब देखना होगा कि 26 मार्च को होने वाली वोटिंग में कमलनाथ मध्य प्रदेश में अपनी सरकार और राज्यसभा की एक सीट बचा पाएंगी क्योंकि पार्टी के 22 विधायक पार्टी छोड़ने का ऐलान कर चुके है। इसमें अभी तक सिर्फ छह मंत्रियों का इस्तीफा ही स्वीकार किया है और बाकी विधायक अभी बेंगलुरु में है।

शिवराज सिंह सहित बीजेपी के 9 विधायकों कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

विधानसभा की कार्यवाही स्थगित होने के बाद नाराज पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान सहित बीजेपी के 9 विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। बीजेपी ने 48 घंटे में फ्लोर टेस्ट की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल किया है। फिलहाल कोर्ट ने सुनवाई के लिए कल का दिन तय किया है।

SHARE
Previous articleफ्लोर टेस्ट पर राजभवन और कमलनाथ सरकार में टकराव 
Bundelkhand Khabar is a comprehensive platform featuring Bundelkhand region news and events. The Bundelkhand region comprise of Gwalior Narsinghpur, Panna, Jhansi, Banda, Chitrakoot, Datia, Tikamgarh, Rath, Lalitpur, Sagar, Damoh, Orai, Hamirpur, Mahoba, Banda, Ashoknagar, and Chhatarpur. The news are submitted by local reporters of these area. If you feel the report have inconsistencies. Please report to us at : contact@bundelkhandkhabar.com

LEAVE A REPLY