शक्ति परीक्षण से पहले मनोहर पर्रिकर सरकार को एक और निर्दलीय MLA का समर्थन

0

पणजी: गोवा में मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार से सप्रीम कोर्ट की ओर से बहुमत साबित करने के लिए कहे जाने के बाद मंगलवार को एक और निर्दलीय विधायक ने इस गठबंधन सरकार का समर्थन किया. इसके साथ ही सत्तापक्ष के कुल विधायकों की संख्या 22 हो गई. मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद पर्रिकर ने संवाददाताओं से कहा, ‘पिछले दो दिनों से इसे लेकर अटकल थी कि क्या बीजेपी के पास बहुमत का आंकड़ा है और आज हमारे पास 22 विधायक हैं.’ एक सवाल के जवाब में पर्रिकर ने कहा कि एक और निर्दलीय विधायक ने सरकार का समर्थन किया है और अब उनके पास 40 सदस्यीय विधानसभा में 22 विधायक हो गए हैं. निर्दलीय विधायक रोहन खौंटे और गोविंद गावडे पहले ही बीजेपी नीत सरकार का समर्थन कर चुके हैं.

इससे पहले पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने मंगलवार की शाम चौथी बार गोवा के मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली. हालांकि शपथ ग्रहण के दौरान उन्होंने बड़ी गलती की और भूलवश मंत्री पद की शपथ ली. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इस गलती को ओर ध्यान दिलाया. तब जाकर उन्होंने दोबारा शपथ ली.

पर्रिकर को राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने सदन में बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का समय दिया था लेकिन अब सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार अब गुरुवार को फ्लोर टेस्ट पास करना होगा. मुख्यमंत्री पर्रिकर के अलावा बीजेपी के कोटे से दो मंत्री बने हैं, जबकि सहयोगी दलों जीएफपी को तीन, एमजीपी को दो और निर्दलीय विधायकों को दो मंत्री पद दिए गए हैं. शपथ ग्रहण के दौरान राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री लक्षीकांत पारसेकर भी मौजूद रहे.

इन विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ

महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी की ओर से रामकृष्ण (सुदिन) ढवलीकर और मनोहर (बाबू) आजगांवकर को मंत्री पद दिया गया है. वहीं, गोवा फॉरवर्ड पार्टी के तीनों विधायकों को मंत्री पद से नवाजा गया है. पार्टी के संरक्षक विजय सरदेसाई सहित विनोद पालियेंकर और जयेश सालगांवकर ने मंत्री पद की शपथ ली. इसके अलावा बीजेपी विधायक फ्रांसिस डिसूजा और पांडुरंग मडकईकर को भी मंत्री पद मिल गया है. अन्य दलों की बात करें तो रोहन खवटे और गोविन्द गावडे को मंत्री बनाया गया है. वहीं, मोविन गुदीन्हो का पत्ता कट गया है.

मालूम हो कि 40 सदस्यीय सदन में बीजेपी ने 13 सीटों पर जीत हासिल की. महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी (एमजीपी), गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) और निर्दलीय उम्मीदवारों ने तीन-तीन सीटें जीतीं और राकांपा के खाते में एक सीट है.

LEAVE A REPLY