बूथ बेवकास्टिंग ऑपरेटर नहीं डाल पाएंगे वोट

बूथ बेवकास्टिंग ऑपरेटर नहीं डाल पाएंगे वोट

0

⊕ बूथ पर मतदान करने हेतु उपजिलाधिकारी सदर से मिले
⊕ मतदान करने हेतु नहीं मिला फॉर्म 12क
⊕ दो दिन पूर्व दिये गए ड्यूटी आदेश, 27 को हुई विकास भवन में ट्रेनिंग

राहुल श्रोती

ललितपुर। लोक सभा चुनाव में मतदान करने से बूथ बेवकास्टिंग ऑपरेटरों को वंचित कर दिया गया है। लोकतंत्र में पांच वर्ष में एक बार मतदान करने का अवसर मिलता है, किन्तु कर्मचारियों की बूथ बेवकास्टिंग ऑपरेटर पद पर लोक सभा चुनाव में ड्यूटी लगने से ड्यूटी वाले मतदान केंद्र पर मतदान करने संबंधित कोई भी दिशा निर्देश नहीं प्राप्त हुए है। मतपत्र हेतु आवेदन (प्रारुप -12) एवं ईडीसी हेतु 12क नहीं दिया गया।

मतदान करने की अनुमति प्रदान करने हेतु बूथ बेवकास्टिंग ऑपरेटर उपजिलाधिकारी सदर
व 12क फार्म लेने हेतु चकबंदी कार्यालय जाकर सम्पर्क किया, किन्तु नतीजा ढाक के तीन पात की तरह रहा। चकबन्दी कार्यालय से फार्म 12क देने से मना कर दिया गया, वहीं उपजिलाधिकारी गजल भारद्वाज से समस्या का समाधान नहीं हुआ। यहाँ पर बता दें कि अधिकारियों द्वारा दो दिन पूर्व दिये ड्यूटी आदेश बूथ बेवबकास्टिंग ऑपरेटरों को दिये गये हैं जिनका प्रशिक्षण 27 अप्रैल को विकास भवन में कराया गया।

प्रशिक्षिण में भी ड्यूटी वाले बूथ पर मतदान करने की अनुमति की मांग बैठक में की गई, जिसपर चकबन्दी कार्यालय से सम्पर्क करने को कहा गया किन्तु चकबन्दी कार्यालय में सम्पर्क करने पर कर्मचारियों को फार्म 12क नहीं दिया गया, वापस लौटा दिया गया। उपजिलाधिकारी सदर भी समस्या का समाधान नहीं कर पाई।

कर्मचारियों को मतदान करने की अनुमति न मिलने पर निराशा ही हाँथ लगी। ताजुब्ब वाली बात है कि एक ओर जहाँ अधिक से अधिक मतदान करने हेतु मतदाता अभियान चलाकर उन्हें मतदान करने हेतु जागरूक किया गया, वहीं दूसरी ओर बूथ बेवकास्टिंग ऑपरेटर पद पर लगभग 81 बूथो पर तैनात बूथ बेवकास्टिंग ऑपरेटरो को मतदान से वंचित कर दिया गया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY