झांसी पहुंचने के पहले ही ज्योतिरादित्य का विरोध, लोगों ने लिखा ‘ सिंधिया गद्दार ‘

0
महासचिव बनने के बाद गांधी परिवार के साथ लोगों का अभिवादन करते ज्योतिरादित्य सिंधिया

महासचिव बनने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के झांसी पहुंचने के पहले ही उनके खलाफ अभियान शुरू हो गया. लोग महारानी झांसी का बलिदान याद कर लिख रहे हैं…’सिंधिया गद्दार

#आस्था शर्मा

झांसी। कांग्रेस ने प्रियंका गांधी के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी का महासचिव बनाकर उत्तर प्रदेश में सियासी जमीन मजबूत करने की जिम्मेदारी दी है. महासचिव बनाए जाने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया पहली बार बुंदेलखंड के दौरे पर आए रहे हैं, लेकिन झांसी में सिंधिया की राह आसान नहीं होगी. सिंधिया आज सुबह ग्यारह बजे शताब्दी सेर झांसी पहुंचेंगे, लेकिन पहुंचने के पहले ही ज्योतिरादित्य सिंधिया का विरोध शुरू हो गया है. सोशल मीडिया पर उनको गद्दार लिखा जा रहा है. इस विरोध के बीच माना जा रहा है कि ऐसे में ज्योतिरादित्य सिंधिया झांसी में रुकने से परहेज़ कर सकते हैं.Screenshot_20190224-082308

बुंदेलखंड खबर द्वारा ज्योतिरादित्य सिंधिया के झांसी आने की खबर चलाने के बाद सोशल मीडिया पर उनको गद्दार और कई आपत्तिजनक कमेंट किए जा रहे हैं. कई लोगों ने अपने फेकबुक अकाउंट पर सिंधिया को झांसी की रानी से गद्दारी करने वाले परिवार का वंशज बताया है. बीजेपी के प्रदेश मीडिया सह प्रभारी हिमांशु दुबे अपनी FB वॉल पर लिखते हैं ‘ बुंदेले हरबोलों के मुंह हमने सुनी कहानी थी… अंग्रेजों के मित्र सिंधिया..’

हिमांशु दुबे की FB वॉल से
हिमांशु दुबे की FB वॉल से

वहीं बुंदेलखंड खबर के पेज पर शिवाजी बिरथरे लिखते हैं ‘ झांसी के गद्दार को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा ‘ ऐसे में ज्योतिरादित्य सिंधिया का झांसी में पहुंचना नुक्सान देय माना जा सकता है. यही नहीं बुंदेलखंड में भी सिंधिया को जो जिम्मेदारी देकर कांग्रेस को मजबूत करने की जो कोशिश है उस पर भी पानी फिर सकता है.
गौरतलब है कि महारानी लक्ष्मीबाई जब अंग्रेजों के खिलाफ अपनी मात्रभूमि के लिए लड़ रहीं थीं, तब ग्वालियर के महाराज सिंधिया अंग्रेजों से मित्रता निभा रहे थे. हाल में रिलीज़ मणिकर्णिका फिल्म ने ग्वालियर सिंधिया राजघराने की छवि एक बार फिर गद्दार के रूप में ताज़ा कर दी है. ऐसे में माना जा रहा है कि झांसी सिंधिया की सियासी एंट्री कभी स्वीकार नहीं करेगी.

वैसे तय कार्यक्रम में ज्योतिरादित्य सिंधिया झांसी में कुछ ही देर रुकने की बात कही गई है. पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य के मुताबिक सिंधिया शताब्दी से आएंगे और करीब पंद्रह मिनट रुककर शिवपुरी के लिए रवाना हो जाएंगे.

यह है कार्यक्रम –
कार्यक्रम जारी किया गया उसमें अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय महासचिव, पूर्व केंद्रीय मंत्री, गुना सांसद, ज्योतिरादित्य सिंधिया आगामी 24 फरवरी से 27 फरवरी तक उप्र के झांसी, मप्र के शिवपुरी, गुना एवं अशोकनगर जिले के चार दिवसीय दौरे पर रहेंगे।
¤ श्री सिंधिया 24 तारीख को प्रातः नई दिल्ली से झांसी पहुंचेंगे यहां कुछ समय विश्राम गृह पर रुकने के पश्चात शिवपुरी जिले के दौरे के लिए प्रस्थान करेंगे।

‾¤ 24_एवं_25 फरवरी को शिवपुरी_जिले की पिछोर, शिवपुरी, कोलारस विधानसभा के साथ गुना_जिले की बमोरी विधानसभा क्षेत्र के क्षेत्र के दौरे पर रहेंगे.

¤ 26_फरवरी को सिंधिया गुना_जिले की गुना एवं बमोरी विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर रहेंगे.

¤ 27_फरवरी को अशोकनगर_जिले की चंदेरी एवं अशोकनगर विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर रहकर सामाजिक एवं रचनात्मक कार्यक्रमों में सम्मिलित होंगे. उसके पश्चात श्री सिंधिया गुना एयरपोर्ट की ओर प्रस्थान करेंगे गुना से स्पेशल विमान द्वारा नई दिल्ली पहुंचेंगे। सिंधिया का यह दौरा लोकसभा चुनाव के लिहाज से खास माना जा रहा है.

LEAVE A REPLY