कोरोना से लडऩे के लिए झांसी का रेलवे हॉस्पिटल हुआ तैयार

कोरोना से लडऩे के लिए झांसी का रेलवे हॉस्पिटल हुआ तैयार

0
Jhansi railway hospitel

झांसी। कोविड-19 से लडऩे झांसी के रेलवे हॉस्पिटल तैयार हो गया है। यहां कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में रेल कर्मचारियों को बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने को रेलवे इंतजाम किए हैं। किसी भी विपरीत परिस्थिति में हॉस्पिटल स्टाफ की सतर्कता एवं उनकी तैयारी को परखने के लिए 27 मार्च को हॉस्पिटल में एक मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया ।
इस दौरान देखा गया कि हॉस्पिटल में किसी व्यक्ति के कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने पर स्टाफ द्वारा जरूरी कार्यवाही जैसे- रजिस्ट्रेशन, आइसोलेशन, मेडिकेशन, कांटेक्ट हिस्ट्री इत्यादि किस प्रकार सम्पन्न किये जाते है । मंडल रेल प्रबंधक महोदय ने कहा कि अपने रेल कर्मचारियों को इस संकट की घड़ी में बेहतर से बेहतर चिकित्सीय सुविधा प्रदान करने के लिए झांसी मंडल तैयार है . उन्होने रेलवे स्टाफ द्वारा इस संकट की घड़ी में की जा रही राष्ट्र सेवा की प्रशंसा की.

कोविड-19 के प्रसार को रोकने के दृष्टिगत लगाए गए देशव्यापी लॉकडाउन के बाद जहाँ पूरे देश मे सन्नाटा सा छाया हुआ है वही रेल कर्मचारी इस कठिन समय मे भी देशभर में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति हेतु निरंतर अपने कार्य मे जुटे हुए है । यद्यपि रेलवे द्वारा 14 अप्रैल तक सभी यात्री सेवाओ को बंद कर दिया गया है परंतु माल गा?ियों के संचालन में रेलवे द्वारा कोई कमी नही छोड़ी जा रही है एवं ऐसे समय मे मालगाडिय़ों के सफल परिचालन में जुटे रेलवे के विभिन्न विभागों की भूमिका उल्लेखनीय है । विशेष रूप से लोको पायलट एवं गार्ड जो इस संकट के समय मे भी दिन रात अपनी सेवाएं देश को दे रहे है ताकि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति देश के हर कोने में की जा सके, सराहनीय है ।
रेल प्रशासन द्वारा भी अपने कर्मचारियों की सुरक्षा का पूर्ण रूप से ध्यान रखा जा रहा है फिर चाहे लोकोमोटिव हो या गार्ड/लोकोपायलट लॉबी सभी को सेनेटाइज किया जा रहा है । गार्ड ,लोको पायलट एवं गा?ियों के सतत परिचालन में जुटे सभी कर्मचारियों को आवश्यकता के अनुरूप सुविधाएं प्रदान की जा रही है जिससे वे स्वयं को सुरक्षित रखते हुए अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर सके ।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY