महोबा : राजनैतिक ज़मीन तलाशने की कोशिश में बाबू सिंह कुशवाहा, अपनी पार्टी के प्रत्याशी उतारे

0
बाबू सिंह कुशवाहा काफी पहले से बुंदेलखंड में जन सभाएं कर रहे थे

महोबा :  एनआरएचएम घोटाले में फंसने के बाद बसपा से निकाले गये बाबू सिंह कुशवाहा यूपी की राजनीति में जगह बनाने की कोशिश में हैं. उन्होंने इसकी शुरुआत बुंदेलखंड से की है. बुंदेलखंड के महोबा जिले में उन्होंने दो प्रत्याशी उतारे हैं. बाबू सिंह कुशवाहा ने महोबा सदर व चरखारी सीट पर अपनी पार्टी जन अधिकार मंच से दो प्रत्याशियों को टिकट दिए हैं.

कभी बसपा सरकार में मंत्री रहे बाबू सिंह कुशवाहा को एक समय बसपा की सरकार रहते उत्तर प्रदेश की राजनीति का वो शख्स माना जाता था, जिसके इशारे ही काफी होते थे, वही बाबू सिंह कुशवाहा एनआरएचएम् घोटाले में फंसने के बाद राजनीति में फिर से वही जगह बनाने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं. वह बुंदेलखंड में कई सभाएं कर चुके हैं. झाँसी के मुक्ताकाशी मंच पर सभा के साथ ही बुंदेलखंड के कई जिलों में रैली कर चुके हैं. पिछड़ों को राजनीति में जगह दिलाने के नाम पर वोट की अपील कर चुके हैं.

LEAVE A REPLY