सपा से टिकट नहीं मिला तो इस लेडी ने कर दी बगावत, बोली नगर पंचायत में जिसने की तोड़फोड़ उसे ही दे दिया टिकट

0
हमीरपुर की कुरारा नगर पंचायत की पूर्व अध्यक्ष श्रीमति माया


हमीरपुर. यूपी के हमीरपुर जिले में नगर पंचायत कुरारा में समाजवादी
पार्टी से टिकट न मिलने से नाराज निवर्तमान चेयरमैन श्रीमती माया ने
पार्टी कैंडीडेट को सबक सिखाने के लिये चुनावी समर में उतरी है। उनका
कहना है कि जिस कैंडीडेट को सपा ने चेयरमैन पद के 
लिये टिकट दिया हैै उसी
ने नगर पंचायत में तोडफ़ोड़ कर उनके साथ अभद्रता की थी।

 

बागी कैंडीडेट का पूरा मामला


-हमीरपुरम जिला मुख्यालय से 14 किमी दूर नगर पंचायत कुरारा की सीट पर
समाजवादी पार्टी का कैंडीडेट बागी लेडी कैंडीडेट से परेशान है।
-बताते है कि समाजवादी पार्टी की माया बाल्मीकि वर्ष 2012 के निकाय चुनाव
में चेयरमैन पद पर मात्र 12 वोटों से निर्वाचित हुयी थी।
-माया बाल्मीकि ने पार्टी से टिकट मांगा लेकिन उन्हें बैरंग लौटा दिया
गया। यहां की सामान्य सीट होने पर पार्टी ने श्रीकांत गुप्ता को टिकट
दिया है।
-बताया जाता है कि पार्टी नेताओं के मना करने के बाद भी माया बाल्मीकि ने
नगर पंचायत कुरारा सीट के लिये निर्दलीय रूप से चुनाव लड़ रही है।
-बताते है कि बागी कैंडीडेट माया बाल्मीकि बीए पास है। उनके पति घनश्याम
बाल्मीकि परिवहन निगम में नौकरी करते है।

 

39 साल बाद नगर पंचायत सीट हुई सामान्य
-बताते है कि 1978 में नगर पंचायत कुरारा का गठन हुआ था जो वर्ष 1988 तक
प्रशासक के आधीन रही। उसके बाद चुनाव कराये गये।
-रामविलास गुप्ता पहली बार चेयरमैन बने। दोबारा हुये चुनाव में आरक्षण
लागू होने पर दो बार पुरुष व दो बार महिला इस सीट से चेयरमैन बनी।
आईएएस से विवाद पर चर्चा में रही थी माया
-चेयरमैन रहते माया बाल्मीकि के अवैध मकान पर यहां के तत्कालीन एसडीएम
आशुतोष निरंजन आईएएस ने बुलडोजर चलवाया था।
-वह समाजवादी पार्टी में रहते हुये भी इस कार्रवाई को नहीं रुकवा पाई थी।
उन्होंने आईएएस के खिलाफ हाईकोर्ट में मामला दायर कर रखा है।
बागी कैंडीडेट पांचवीं बार लड़ रही चुनाव
-बताते है कि सपा की यह बागी कैंडीडेट टिकट पांचवीं बार इलेक्शन लड़ रही
है। उनका कहना है कि सपा कैंडीडेट चुनावी जंग में जरूर हारेगा।
-बागी महिला कैंडीडेट ने कहा कि जिसने नगर पंचायत में तोडफ़ोड़ कर उनसे
झगड़ा किया था उसी शख्स को टिकट देकर अच्छा नहीं किया है।

LEAVE A REPLY