बेतवा में फंसे लोगों को बचाने ढाई किलोमीटर पैदल चले गरौठा MLA,...

बेतवा में फंसे लोगों को बचाने ढाई किलोमीटर पैदल चले गरौठा MLA, प्रशासन से पहले पहुंच गए थे टापू के पास

0
mla jhansi
बेतवा नदी में फंसे लोगों को बचाने पैदल जाते गरौठा विधायक

बुन्देलखण्ड खबर

झांसी। जन्माष्टमी के दिन बुन्देलखण्ड की सबसे बड़ी नदी बेतवा उफान पर थी। नदी के अचानक रौद्र रूप में आने के कारण झांसी की गरौठा विधानसभा के ऐरच क्षेत्र के एक टापू पर आठ गरीब चरवाहे फंस गए। दोपहर में इसकी जानकारी किसी ने विधायक जवाहर राजपूत को दी तो फौरन ही विधायक राजपूत अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर उनकी मदद में जुट गए।

 

विधायक ने फौरन शासन और प्रशासन को इसकी जानकारी दी और खुद भी मौके पर चल पड़े। विधायक जिला प्रशासन के पहले ही बेतवा के टापू के पास पहुंच गए। वहां वाहन नहीं पहुंच सकता था इसलिए ढाई किलोमीटर पैदल भी चले। डीएम को उन्होंने सेना से संपर्क करने को कहा। झांसी में हैलीकॉप्टर नहीं था, इसलिए कानपुर से हैलीकॉप्टर मंगाकर सभी आठ लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया।

बीजेपी MLA जवाहर राजपूत बेतवा नदी के पास चरवाहों की मदद को पहुंचे
बीजेपी MLA जवाहर राजपूत बेतवा नदी के पास चरवाहों की मदद को पहुंचे

झांसी जिले के एरच में बेतवा नदी के टापू पर 8 मछुआरे फंस गए थे। इसकी सूचना लोगों ने विधायक जवाहर लाल राजपूत को दी। सूचना मिलते ही विधायक ने डीएम को इसकी जानकारी देकर फौरन रेस्क्यू आपरेशन चलाने को कहा। इस पर डीएम शिवसहाय अवस्थी ने मौके की जानकारी के बाद सेना से हैलीकॉप्टर भेजने को लेकर मदद मांगी। इस पर शाम के सेना ने हैलीकॉप्टर भेजकर रेस्क्यू ऑपरेशन किया। सेना की कोशिश के बाद सभी को बाहर निकाल लिया गया।
विधायक बोले सेना भगवाल बनकर आई
विधायक जवाहर लाल राजपूत ने रेस्क्यू ऑपरेशन कर सभी आठ लोगों को बचाने का श्रेय सेना को दिया है। उन्होंने कहा कि सूचना मिलते ही सेना ने ऐरच पहुंचकर मदद शुरू कर दी। प्रशासन के अधिकारी भी उनके साथ रहे। वहीं जिला प्रशासन से पहले घटना स्थल पर पहुंचने की बात पर विधायक ने कहा कि यह उनका क्षेत्र है और यहां का प्रत्येक नागरिक उनके परिवार का हिस्सा है। उनकी सुरक्षा हमारा पहला दायित्व है। उनके लिए वे पैदल चलते रहे हैं और चलते रहेंगे।

लोगों ने की विधायक की पहल की तारीफ
गरौठा के स्थानीय लोगों के विधायक के घटना स्थल पर पहले पहुंचकर सभी को बचाने के प्रयास में सहयोग करने पर तारीफ की है। लोगों का कहना है कि गरौठा में ऐसा पहली बार देखा गया है कि जब विधायक इतनी दूर पैदल चलकर आया और रेस्क्यू ऑपरेशन होने तक वहीं खड़ा रहा। प्रशासन को भी निर्देश देता रहा। लोगों ने कहा कि जवाहर राजपूत किसान और गरीबों के लिए आज भी सहज हैं।
रविवार को झांसी में बेतवा नदी भारी उफान पर रही। डीएम ने तटवर्ती गांव को खाली कराने को लेकर भी अलर्ट जारी कर दिया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

%d bloggers like this: