जालौन। विधानसभा चुनाव नामांकन के अंतिम दिन जहां राजनीतिक दल के नेताओं ने पर्चा भरकर दमखम दिखाया तो वहीं एक किन्नर ने भी चुनावी मैदान में कूदकर नेताओं को खुली चुनौती दे दी। सोमवार को माधौगढ़ विधानसभा सीट से राष्ट्रीय विकलांग पार्टी से नैनाबाई किन्नर ने अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंच कर पीठासीन अधिकारी के समक्ष अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। यह नामांकन चर्चा में रहा।
 माधौगढ़ विधानसभा सीट अनारक्षित है। यहां से सपा-कांग्रेस गठबंधन प्रत्याशी पूर्व विधायक विनोद चतुर्वेदी चुनाव मैदान में हैं जबकि बहुजन समाज पार्टी ने गिरीश अवस्थी को टिकट देकर मैदान में उतारा है। इसके साथ ही महानदल ने रविन्द्र सिंह मुन्ना को प्रत्याशी बनाकर चुनाव मैदान में भेजा है। सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन माधौगढ़ विधानसभा सीट से किन्नर नैनाबाई ने अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंच कर पीठासीन अधिकारी के समक्ष नामांकन पत्र दाखिल किया है। किन्नर के नामांकन भरने के बाद यहां चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया। लोग यह भी कहते दिखे के नेताओं को सबक सिखाने कहीं जनता इस बार किन्नर के साथ खड़ी न हो जाए। वहीं किन्नर नैनाबाई का कहना है, मैं जनता की प्रत्याशी हूं। लोगों ने उससे कहा कि वह चुनाव लड़े तो मैं मैदान में आ गई। लोगों का जोरदार समर्थन मिल रहा है, जिसके बूते वह इस चुनाव में जीत दर्ज कराकर विधानसभा में पहुंचेंगीं।

LEAVE A REPLY