डायलिसिस के मरीज की मौत पर परिजनों ने हॉस्पिटल में की तोड़फोड़,पिता बोला- प्रशासन लापरवाही से गई बेटे की जान

0

@राम नरेश यादव

झांसी. यहां मंगलवार को जिला हॉस्पिटल में डायलिसिस कराने आए मरीज की मौत होने पर परिजनों ने जमकर हंगामा किया। मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि जिला अस्पताल में डायलिसिस केंद्र नर्सों के भरोसे चल रहा है। यहां किसी डॉक्टर ड्यूटी पर नहीं आते हैं। मृतक के पिता ने कहा प्रशासन की लापरवाही की वजह से हमारे बेटे की मौत हो गई है।

सुबह लगभग आठ बजे ईसाई टोला में रहने वाले मनोज कुमार शाक्य अपने परिजनों के साथ जिला अस्पताल में डायलिसिस कराने आए थे। समय पर उपचार न मिलने से उसकी मौत हो गई। मौत के बाद मृतक के शव को  हृदय रोग केंद्र में रखकर बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया।

बताया जा रहा है कि हंगामे की सूचना पर जिला अस्पताल के डॉक्टर गायब हो गए। वहीं परिजनों का कहना है कि डायलिसिस केंद्र नर्सों के भरोसे चल रहा था और एक भी डॉक्टर केंद्र पर मौजूद नहीं था। डॉक्टरों की कमी के कारण ही मरीज की मौत हुई।

वहीं, CMS बीके गुप्ता ने बताया, प्राथमिक जांच के आदेश दे दिए गए हैं। डायलिसिस केंद्र पीपीपी मॉडल पर है। हम जगह दे सकते हैं व्यवस्था करना उनका काम है। बतादें कि 3 महीने पहले डायलिसिस केंद्र का उद्घाटन झांसी कमिश्नर कुमुद लता श्रीवास्तव ने किया था लेकिन उसके बाद से कोई भी अधिकारी केंद्र पर नहीं आया।

LEAVE A REPLY