2005-06 के बजट में शामिल महोबा रेल लाइन का काम अब हुआ शुरू, लोग बोले-इस बार के बजट का काम तो 2020 के बाद दिखेगा

0

महोबा। रेलवे विभाग रेल यात्रियों को सुविधाएं देने के साथ ही स्टेशनों का कायाकल्प करने में भी लगा हुआ है। इस दिशा में कार्य भी शुरू कर दिया गया है। वर्ष 2005-06 के बजट में शामिल झांसी खैरार/मानिकपुर तथा खैरार जंक्शन से भीमसेन तक की कुल 411 किमी विद्युत के रेल ट्रैक के दोहरीकरण का काम अब जबकि आज वर्ष 2017-18 का रेल बजट पेश होने को है तब शुरू हुआ है।
इस रेल ट्रैक की दोहरीकरण की परियोजना की लागत वर्ष 2016-17 में तीन हजार करोड़ है इस परियोजना के शुरू हुये कार्य के लिये फिलहाल दो करोड़ रूपये आवंटित किये गये है। उधर, झांसी से मानिकपुर तक खैरार से भीमसेन तक 409 किमी रेल मार्ग पर 454.63 करोड़ की लागत से नवस्वीकृत रेल विद्युतीकरण का कार्य भी शुरू हो गया है। कार्य की शुरूआत महोबा स्टेशन सहित क्षेत्र में देखी जा रही है। डबल रेल लाइन व विद्युतीकरण के कार्य पूर्ण होने पर क्रासिंग हेतु कुलपहाड़ आदि में ट्रेनों के टिकने और देरी से चलने की समस्या से निजात मिल सकेगी। ट्रेनों की स्पीड भी डबल लाइन और विद्युतीकरण के कारण बढ़ेगी इससे यात्रियों को राहत मिलेगी। उपरोक्त बड़ी रेल परियोजनाओं के प्रारंभ हुये कार्य से रेल यात्रियों में प्रसन्नता है। साथ ही महोबा रेलवे स्टेशन के विस्तार का कार्य भी तेजी से शुरू कर पूरा करने में रेलवे विभाग जुटा है। पांच सौ मीटर प्लेटफार्म नं एक को बढ़ाया जा रहा है। यही नहीं महोबा स्टेशन पर नगर पालिका महोबा के द्वारा दस-दस डीलक्स शौचालय, स्नानगृह, मूत्रालय के निर्माण को भी रेलवे की स्वीकृति हासिल हो चुकी है, किंतु उप्र के विस चुनाव के लिए लागू आचार संहिता के कारण अभी यह कार्य प्रारंभ नहीं हो सका।

रेलवे के सूत्रों ने बताया है कि आचार संहिता की समाप्ति पर इस कार्य को प्रारंभ कर जल्द ही पूरा किया जायेगा। महोबा रेलवे स्टेशन में बने ओवरब्रिज से उतरते समय रेल ट्रैक से प्लेटफार्म और ब्रिज के बीच के हिस्से को पूरी तरह ढंकने के लिये टीनशेड को मिलाने का कार्य भी चल रहा है, ताकि वर्षा के दिनों में यात्री ब्रिज से उतरकर ट्रेन पर सवार होने और ट्रेन से उतर प्लेटफार्म से ओवरब्रिज पर जाते वर्षा जल से महफूज रह सकें।

रेलवे सलाहकार समिति झांसी मंडल के सदस्य हरिश्चंद्र पाटकार ने बताया कि उन्होंने उपमंडल रेल प्रबंधक झांसी सहित रेलवे के उच्चाधिकारियों से महोबा सिटी में छह ऐसे टिकट घरों की मांग की है, जहां से अतिरिक्त शुल्क के बिना लोग टिकट हासिल कर सकें। ऐसे टिकट घर संचालकों को कमीशन रेल विभाग दें। महोबा सहित हरपालपुर, मउरानीपुर आदि स्टेशन पर एटीएम की स्थापना, स्वाइप मशीन लगाये जाने तथा कैशलैस भुगतान की रेलयात्रियों को सुविधा सुलभ हो गई है।

LEAVE A REPLY