फ्लोर टेस्ट पर राजभवन और कमलनाथ सरकार में टकराव 

फ्लोर टेस्ट पर राजभवन और कमलनाथ सरकार में टकराव 

मध्यप्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत के बाद कांग्रेस सरकार का संकट बढ़ता ही जा रहा है। सीएम कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट पास करने की बात कहते हुए यह जताने की कोशिश की है कि उनकी सरकार इससे परेशान नहीं है और पूरी तरह तैयार है।

0

भोपाल। मध्यप्रदेश में सत्ता छीनने और बचाने की लड़ाई लगातार तेज होती जा रही है। रविवार को सबसे बड़ा सस्पेंस विधानसभ में सोमवार को होने वाले फ्लोर टेस्ट को लेकर बना हुआ है। यह इसलिए क्योंकि राज्यपाल के निर्देश के बाद भी विधानसभा की कार्यसूची से फ्लोर टेस्ट के विषय को दूर रखा गया है। इस लिहाज से ये माना जा रहा है कि कल सदन में फ्लोर टेस्ट नहीं कराया जाएगा। इसको लेकर भाजपा नेता और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव और पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने राज्यपाल से शिकायत की है। इसके बाद राज्यपाल ने एक बार फिर मुख्यमंत्री कमलनाथ को फ्लोर टेस्ट को लेकर पत्र जारी कर दिया है। पत्र में स्पष्ट कहा गया है कि 16 मार्च को फ्लोर टेस्ट कराया जाना है, सदन की कार्यवाही किसी भी शर्त में स्थगित नहीं की जाएगी।

मध्यप्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत के बाद कांग्रेस सरकार का संकट बढ़ता ही जा रहा है। सीएम कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट पास करने की बात कहते हुए यह जताने की कोशिश की है कि उनकी सरकार इससे परेशान नहीं है और पूरी तरह तैयार है। दूसरी ओर फ्लोर टेस्ट कराए जाने को लेकर कहा है कि कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि हमारे 16 विधायकों को भाजपा ने बंधक बना लिया है और इन हालातों में क्या फ्लोर टेस्ट करना संविधानिक होगा? इससे पहले आज ही सभी विधायकों ने एक पत्र जारी कर कहा था कि हम विधानसभा अध्यक्ष के सामने प्रस्तुत होने में असमर्थ हैं, कृपया इसे ही हमारा इस्तीफा समझा जाए। सोमवार को विधानसभा की तस्वीर ऐतिहासिक हो सकती है। राज्यपाल लालजी टंडन ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखकर फ्लोर टेस्ट करने का निर्देश जारी कर दिया है, लेकिन विधानसभा की कार्रवाई में फ्लोर टेस्ट को नहीं रखकर सरकार ने भी अपनी मंशा साफ कर दी है कि वह अपने तरीके से कार्य करेगी। इसके बाद राज्यपाल और सरकार में टकराव के आसार का रास्ता भी खुल गया है।
अब विधानसभा में राज्यपाल के भाषण के दौरान या फिर उसके फौरान बाद हंगामा होने की स्थिति पैदा हो गई है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY