मेरठ से नहीं, झांसी से शुरू हुई थी अंग्रेजों के खिलाफ 1857 की पहली...

@रामनरेश यादव झांसी। अंग्रेजों के जुल्म के खिलाफ पहला बिगुल मेरठ से नहीं, बल्कि झांसी से बजा था। इतिहासिक तथ्यों को खंगालने के बाद जो...

खेल दिवस पर सरकारी स्कूलों में याद किए जाएंगे दद्दा ध्यानचंद

सागर। हाकी के जादूगर मेजर ध्यानचन्द की स्मृति में 29 अगस्त को खेल दिवस के अवसर पर सभी संभागीय मुख्यालयों के साथ-साथ सभी सरकारी...

अब झांसी स्टेशन जैऔ सो चौंक जैऔ, बुन्देलखण्डी कलाकृतियों ने बनाया दर्शनीय

@बुंदेलखंड खबर  झांसी। अरे बा.. अब लगे कै हम बुन्देलखण्ड में या आ गए। जौ झांसी कौ टेसन (स्टेशन) तौ पूरौअई बदल गऔ। झांसी स्टेशन...

इंडियन योग गुरू से कुण्ठित लोगों ने पूछा, आपके चारों तरफ क्यों हैं चाइनीज...

@jyoti sharma- झांसी। बहुत सारी चायनीज़ माल चारों तरफ़। इतनी गज़़ब की गोरी गोरी लड़कियां, चीन में इसी वजह से जमे हो। क्या बात है...

महिला दिवस: बुंदेलखंड की इस सब्जीवाली को सलाम, गरीबी में भी बेटी को बना...

@पंकज मिश्रा हमीरपुर। हमीरपुर जिले में अपनी बेटी को डाक्टर बनाने के बाद भी एक महिला आज भी घर खर्च चलाने के लिये सड़क किनारे सब्जी...

हम छोड़ चले हैं महफिल को, याद आए कभी तो मत रोना …

अत्यंत गरीबी और अभाव में पले बढ़े बरूआसागर के रहने वाले इंदीवर ने कालजयी गीत लिखे। पांच दशकों बाद भी इंदीवर के गीत आज...

ऐसे हों हमारे नेता : 4 बार MLA, एक बार रहे मंत्री, सिर्फ 10...

ललितपुर : हमारा नेता कैसा हो, जैसे बहुचर्चित नारे का अगर आदर्श उत्तर पूछा जाए, तो जवाब डॉ. अरविन्द जैन का नाम बिना हिचक के...