ओरछा नदी पर दुर्घटनाग्रस्त हुई 70 मजदूरों से भरी बस

ओरछा नदी पर दुर्घटनाग्रस्त हुई 70 मजदूरों से भरी बस

0

वर्षा रायकवार
टीकमगढ़/ओरछा। कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए पूरे देश को संपूर्ण लॉक डाउन पर रखा गया है। इससे देशभर में समस्याएं बढ़ गईं हैं। मजदूर बेरोजगार होकर अपने घरों को लौट रहे हैं। आज सुबह मजदूरों को लेकर आ रही एक बस हादसे का शिकार होते होते बच गई। यह बस ओरछा के पास जामनी नदी में गिरने से बच गई। इसमें 70 मजदूर सवार थे। ओरछा के लोगोंं ने इसे ओरछा के रामराजा सरकार की कृपा माना है।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन है। जो जहां फंसा है वह वहीं ठहर गया है। कई जगहों से मजदूर पैदर ही अपने घरों के लिए निकल पड़े हैं। कई जगहों से मजदूरों को प्रशासन ने बसों में सवार कर उनके गांव भेजा जा रहा है। इसी तरह एक बस दिल्ली से पैदल चलकर ग्वालियर पहुंचे मजदूरों को टीकमगढ़ तक ले कर आ रही थी। इस बस में 70 मजदूर सवार थे। बस क्रमांक एमपी 07 पी 1184 जैसे ही जामनी नदी पर पहुंची तो वह अनियंत्रित हो गई। बस का अगला पहिया पुल से नीचे उतर गया। इसी समय ड्राइवर की सतर्कता दिखाते हुए बस को कंट्रोल कर लिया। इस बस को वहीं रोककर सभी मजदूरों को उतार लिया गया। मजदूरों ने बताया कि वह बड़ी मुश्किल से यहां तक पहुंचे हैं। वह भूख और आर्थिक तंगी से जूझ रहे थे। उन्हें टीकमगढ़ तक पहुंचना है। बस हादसे के कारण वह ओरछा में फंस गए। जानकारी के अनुसार निवाड़ी जिला प्रशासन ने मजदूरों को उनके गांव तक पहुंचने के लिए व्यवस्था की है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY