ब्रिटेन ने 6 मुस्लिम बहुल देशों से आने वाले विमानों पर इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से जुड़े प्रतिबंध लगाए

0

लंदन. अमेरिका के बाद अब ब्रिटेन ने भी मुस्लिम बहुल छह देशों से ब्रिटेन आने वाली कुछ उड़ानों में यात्रियों को इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे लैपटॉप और टैबलेट अपने साथ लेकर यात्रा करने पर रोक लगा दी है। ब्रिटेन सरकार का कहना है कि हवाई सुरक्षा के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है । इससे छह ब्रिटिश और आठ विदेशी एयरलाइंस पर असर पड़ेगा। हालांकि सरकार की ओर से यह अभी यह साफ नहीं किया गया है कि यह प्रतिबंध स्थाई रूप से लगाया जा रहा है या बाद में इसमें कोई परिवर्तन किया जा सकता है।
ब्रिटिश सरकार के फैसले के मुताबिक यह प्रतिबंध तुर्की, लेबनान, जॉर्डन, मिस्र, ट्यूनिशिया और सऊदी अरब की उड़ानों पर लागू होगा। इसके तहत फ्लाइट में लैपटॉप, टैबलेट, डीवीडी प्लेयर और एक निश्चित आकार के मोबाइल फोन ले जाने पर प्रतिबंधित रहेगा।
ब्रिटिश सरकार के प्रवक्ता ने कहा, ‘हमारे यहां हवाई सुरक्षा को लेकर लिए गए फैसलों को बहुत गंभीरता से लिया जाता है। हम यात्रियों की सुरक्षा बरकरार रखने के लिए कोई भी कदम उठाने से नहीं हिचकेंगे और अपने अंतरराष्ट्रीय सहयोगियों के साथ बातचीत कर नए नियमों के चलते होने वाली परेशानियों को कम करने की कोशिश करेंगे।’

बता दें कि अमेरिका की ट्रंप सरकार ने भी 8 मुस्लिम बहुल देशों से आ रहे विमानों में यात्रियों के ऊपर ट्रैवल संबंधी नई पाबंदियां लगाई हैं। मिस्र, जॉर्डन, कुवैत, कतर, सऊदी अरब, तुर्की और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) से आ रहे विमानों में यात्री लैपटॉप, आईपैड, कैमरा और कई अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान नहीं ला सकेंगे। अधिकारियों के मुताबिक इन इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में बम छुपे हो सकते हैं। हालांकि ट्रंप प्रशासन ने इसे एक अस्थायी व्यवस्था बताया है।

LEAVE A REPLY