श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से वापस लाये गए 50000 प्रवासी मजदूर

श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से वापस लाये गए 50000 प्रवासी मजदूर

0

झांसी। सरकार ने विशेष रेलगाड़ियों द्वारा विभिन्न स्थानों पर फंसे प्रवासी श्रमिकोंतीर्थयात्रियोंपर्यटकोंछात्रों और अन्य व्यक्तियों के मूवमेंट के संबंध में गृह मंत्रालय के निर्देश के बादभारतीय रेल ने “श्रमिक स्पेशल” ट्रेनों के संचालन का निर्णय लिया था।

  11 मई 2020 तक को कुल 42 टर्मिनेटिंग ट्रेनों द्वारा 49624 प्रवासियों को उत्तर मध्य रेलवे के विभिन्न स्टेशनों पर सुरक्षित रूप से लाया गया है। इन 42 ट्रेनों को उत्तर मध्य रेलवे के सोनभद्र (01 ट्रेन)प्रयागराज जंक्शन (14 ट्रेन)फतेहपुर (02 ट्रेन)एटा (01 ट्रेन)इटावा (01 ट्रेन) अलीगढ़ (01 ट्रेन)कानपुर (07 ट्रेनें)आगरा कैंट (04 ट्रेनें)ग्वालियर (05 ट्रेनें)ओराई (02 ट्रेनें)बांदा (01 ट्रेन)छतरपुर (03 ट्रेनें) जैसे विभिन्न स्टेशनों पर टर्मिनेट किया गया।

 इन ट्रेनों में साबरमतीसूरतअहमदाबादपालनपुरगोधरावीरमगाममेहसाणामोरबीनवसारीदाहोदवड़ोदरासुरेंद्रनगरकन्हंगदकुरनूलअंकलेश्वरबेंगलुरुपुणेनई दिल्लीरेवाडीलुधियानाथिविम आदि स्टेशनों से प्रवासियों को लाया गया है।

 बड़ी संख्या में आने वाली ट्रेनों के अलावाउत्तर मध्य रेलवे के झाँसी से गोरखपुर के लिए 22 कोच और आगरा कैंट से बरौनी के लिए 20 कोचों की दो ट्रेनें आज दिनांक 11.05.20 को चलाई जा रही हैंइसके पूर्व  दिनांक  08.05.20 को अलीगढ़ से पूर्णिया तक संचालित की गई उत्तर मध्य रेलवे की पहली आउटगोइंग ट्रेन से छात्रों को पहुंचाया गया था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY