मौसम विभाग: इस साल पड़ेगी भीषण गर्मी

0

नई दिल्ली। फरवरी के मध्य में ही जहां गर्मी ने अपनी हल्की आहट दे दी थी, वहीं आने वाले महीने में भीषण गर्मी पड़ने के आसार हैं। मौसम विभाग ने पूरे देश में औसत से अधिक तापमान रहने की संभावना जताई है। आईएमडी के मुताबिक, मार्च से मई के बीच कई राज्यों में लोगों को लू के थपड़े झेलने पड़ेंगे।

आईएमडी ने कहा कि देश के उत्तर-पश्चिम इलाके में गर्मी का असर सबसे ज्यादा रहेगा जहां तापमान सामान्य से कुछ डिग्री अधिक रहेगा। देश के बाकी हिस्सों में तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक रहने के आसार हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, जिन क्षेत्रों में सामान्य से अधिक तापमान रहता है, वह श्कोर हीटवेव जोनश् में आता है यानी वहां अत्यधिक गर्म हवाएं चलती हैं। श्कोर हीटवेव जोनश् में पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना इस क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं। इस क्षेत्र में महाराष्ट्र का मराठवाड़ा, सेंट्रल महाराष्ट्र और विदर्भ और आंध्र का तटीय क्षेत्र भी शामिल है।

मौसम विभाग के मुताबिक, 1901 के बाद 2016 सबसे ज्यादा गर्म साल रहा है। जब राजस्थान के पहलोड़ी में तापमान 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। पिछले साल, 1600 लोगों की गर्मी के कारण मौत हो गई थी। इनमें से 700 मौतें लू के कारण हुईं थीं। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में सबसे अधिक- 400 लोग गर्मी के कारण मारे गए थे। आईएमडी के मुताबिक, 1901 के बाद जनवरी 2017 आठवां सबसे गर्म महीना रहा है।

LEAVE A REPLY