बुन्देलखण्डी किसान के बेटे से हुआ रशियन पार्लियामेंट की अफसर को प्यार, 3 साल बाद की शादी

0
सागर। गोवा में बारमैन का काम करने वाले एक मामूली किसान के बेटे को एक 25 साल की रूसी अफसर दिल दे दिया। लड़की भी कोई मामूली नहीं, बल्कि रशियन पार्लियामेंट हाउस के इकोनॉमिक्स डिपार्टमेंट की एक अफसर से। बुन्देलखण्ड के मध्यप्रदेश स्थित सागर जिले के रहने वाले नरेंद्र लोधी के साथ ऐसा ही हुआ। उन्होंने रूस की अनस्तस्था से मुलाकात के 3 साल बाद शादी कर ली।
लव स्टोरी की शुरुआत तीन साल पहले गोवा से हुई। यहां नरेंद्र की मुलाकात अनस्तस्था से बियर बार में हुई जहां वह बियर बार काउंटर पर बारमैन का काम करता था। वहीं नरेन्द्र की मुलाकात रूस की अधिकारी अनस्ताना से हो गई। शुरुआती बातचीत टूटी-फूटी अंग्रेजी में हुई। 25 साल की रूसी लड़की भी अंग्रेजी नहीं जानती थी, लेकिन दोनों ने एक-दूसरे की भाषा आंखों से समझी, फिर दिल की। करीब ढाई साल तक वह नरेंद्र से मिलने के लिए भारत आती रही। इस दौरान सोशल मीडिया के जरिए उनकी बातचीत होती रही। इसके बाद उसने अनस्तस्था ने उसे मॉस्को बुला लिया। जहां उन दोनों ने अगस्त में विधिवत शादी कर ली। यही नहीं, बुधवार को उन्होंने सागर में अपर कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव को अपनी शादी का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए अर्जी भी दी है।
नरेन्द्र के पिता करते हैं मजदूरी
नरेंद्र एक मजदूर परिवार से है। उसके पिता काशीराम लोधी के पास न के बराबर जमीन है। पूरे परिवार की गुजर-बसर खेतों में मजदूरी करके होती है। परिवार में मां के अलावा एक और भाई, एक बहन है। नरेंद्र के मुताबिक, वह कुछ दिन पहले अपनी पत्नी अनस्तस्था को गांव ले गया था। माता-पिता से मिलवाने के बाद अब वह उसके साथ रूस में ही रहने की तैयारी में है। इसके लिए उसने वीजा के लिए अप्लाई कर दिया है।

LEAVE A REPLY