ठाकुरों को बताया भूखा औऱ तानाशाही , उमा भारती

ठाकुरों को बताया भूखा औऱ तानाशाही , उमा भारती

0

महरौनी। लोकसभा चुनाव प्रचार चरम पर है झाँसी संसदीय सीट की विधान सभा महरौनी कस्वे सदभावना मंच पर भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने विवादित व्यान देते हुऐ ठाकुरों को भूखा और तानाशाह बताया ।

बताते चले झाँसी लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी प. अनुराग शर्मा की चुनावी रैली को संबोधित किया जिसमे केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने गुजरे जमाने की पुरानी सामाजिक विषमताओं पर घिनोनी राजनीति करते हुए वर्ग विषेश के साथ झूठी सहानभूति दिखाकर वोट हथियाने की गंदी व्यान बाजी कर डाली । बुंदेलखंड के अन्य पिछड़े समुदाय के लोगो की सहानभूति बटोरने के लिए उन्हें कुछ क्षत्रिय समुदाय द्वारा किये जाते रहे सोषण की याद दिलाते हुए केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा ,” हर गांव में एक राजा साहब होत तै जब बे निकलत तै सब जने हाथ जोड़ के खड़े हो जात तै.…. उनके सामने पनैंयाँ नई पैर सकत तै, साइकिल पै नई बैठ सकत तै, दूल्हा घोड़ा पर नई बैठ सकत तै , ये हालत थी ।” इतनी खरी खोटी सुनाने के बाद भी उमा भारती नही मानी और ठाकुर जाति पर कटाछ करते हुए आगे कहा ,” राजा साहब के घरे चाहे खावे को नई होवे…बेरी के बेर खा रय, कोनऊ ने पूछ लेई कै राजा साहब का हाल है.….बोले अपनी तो जै है, अपनी तो ऐस है…अच्छा खाते है औऱ अच्छा पहनते है..….जबकि हकीकत जे हती के देरी पै बैठके बेर खा रय…ये हालत थीं, राजा साहब लोगों की।”

वर्तमान समय में पूर्व की अपेक्षा सामाजिक भेदभाव की स्तिथि में बहुत सुधार आ गया है ,सभी जाती में भाई चारे की भावना पनपने लगी है । तो ऐसे में यह विवादित व्यान समाज के वर्गों के बीच खाई पैदा करने के लिए काफी है । पूर्व में अशिक्षा के चलते कुंठित मानसिकता के लोगो दुवारा सामाजिक असमानताओं को पैदा किया जाता रहा है।

खरा खोटा व्यान देते हुए उपस्थित जनसमुदाय के बीच उमा भारती ने कहा “मुझे भूलना मत मैं भी तुम्हें नहीं भूलूगी…..अनुराग शर्मा की जीत मेरी जीत है,ये मेरी जिम्मेदारी है अभी मेरा मन नही भरा ।” उमा भरती ऐसे व्यान देने से क्या अनुराग शर्मा को जीता पाएगी । इस व्यान पर क्षत्रिय समुदाय में असंतोष देखा गया व चर्चाओं का बाजार गर्म है । हमारा समुदाय जिन सामाजिक विषमताओं को भूलकर समाज में भाईचारा पैदा करने की कोशिश कर रहा है ,लेकिन इनके व्यान से ठाकुर समुदाय की तौहीन हो रही है ।

जब इस व्यान के संबंध में पूर्ब विधायक देवेंद्र सिंह से पूछा गया तो वह कुछ भी कहने से बचते नजर आये ,

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY